Friday, March 1, 2024 at 3:01 AM

विपक्षी पार्टी बीएनपी ने रेल अग्निकांड को बताया सुनियोजित, संयुक्त राष्ट्र से जांच की मांग

बांग्लादेश की मुख्य विपक्षी पार्टी बीएनपी (बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी) ने बांग्लादेश में हुए रेल अग्निकांड को सुनियोजित करार दिया है और संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में घटना की जांच की मांग की है। शुक्रवार को बांग्लादेश के बेनापोल इलाके में बेनापोल एक्सप्रेस के चार डिब्बों में आग लग गई थी। इस घटना में चार लोगों की मौत हो गई। बेनापोल की सीमा भारतीय राज्य पश्चिम बंगाल से लगती है। जब ट्रेन अपने गंतव्य पर पहुंचने ही वाली थी, तभी राजधानी ढाका के कमालपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में आग लग गई।

विपक्ष ने की संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में घटना की जांच की मांग
बांग्लादेश के रेलवे अधिकारियों ने बताया कि ट्रेन में अधिकतर यात्री भारत से लौट रहे थे। घटना पर बांग्लादेश की मुख्य विपक्षी पार्टी बीएनपी के वरिष्ठ नेता रुहुल कबीर रिजवी ने चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि ट्रेन में कुछ उपद्रवियों द्वारा आग लगाने की घटना हृदयविदारक है। ट्रेन बेनापोल से ढाका जा रही थी। बीएनपी नेता ने आरोप लगाया कि यह एक सुनियोजित घटना थी। उन्होंने घटना को मानवता के खिलाफ निर्दयी प्रताड़ना बताया और घटना की जांच संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में कराने की मांग की।

पीएम शेख हसीना ने दिए घटना की जांच के निर्देश
घटना पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने दुख जताया है और घटना में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना जाहिर की। घटना में घायल लोगों के तुरंत इलाज के निर्देश भी दिए गए हैं। साथ ही उन्होंने घटना की उच्चस्तरीय जांच करने के निर्देश दिए हैं। बांग्लादेश में रविवार को आम चुनाव होने हैं। इन चुनावों की निगरानी के लिए 100 से ज्यादा विदेशी पर्यवेक्षक ढाका पहुंच चुके हैं। पर्यवेक्षकों में तीन भारतीय भी शामिल हैं। अवामी लीग ने बीएनपी पर हिंसा फैलाने के आरोप लगाए हैं। शुक्रवार को खुलना में भी एक स्कूल में आग लगा दी गई थी। इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ। हाल ही में एक पैसेंजर बस में भी आगजनी हुई थी।

बीएनपी ने शनिवार को ढाका के पालटन इलाके में सरकार के विरोध में रैली निकाली। बीएनपी का आरोप है कि बांग्लादेश में होने वाला चुनाव फर्जी है। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि ‘हम एक फर्जी चुनाव के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। वह हमारा वोटिंग का अधिकार छीन रहे हैं। यह चुनाव नहीं है। हम अपने वोटिंग अधिकार चाहते हैं। हम लोकतंत्र चाहते हैं। बांग्लादेश के लोग अपने मताधिकार और लोकतंत्र के लिए लड़ रहे हैं और हम जीतेंगे।’

विपक्ष के बहिष्कार के बीच रविवार को होगा बांग्लादेश में चुनाव
उल्लेखनीय है कि बांग्लादेश की मुख्य विपक्षी पार्टी बीएनपी समेत अन्य विपक्षी पार्टियों ने चुनाव के बहिष्कार का एलान किया है। विपक्षी पार्टियों की मांग है कि चुनाव से पहले केयरटेकर सरकार का गठन किया जाए और उसकी देखरेख में निष्पक्षता से चुनाव होने चाहिए। हालांकि शेख हसीना के नेतृत्व वाली अवामी लीग पार्टी की सरकार ने विपक्ष की मांग को खारिज कर दिया है। ऐसे में बांग्लादेश चुनाव में हिंसा भड़कने की आशंका है और पूरी दुनिया की नजरें इस पर टिकी हैं। शुक्रवार को घटी घटना को भी इससे जोड़कर देखा जा रहा है।

Check Also

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, कम से कम 10 की मौत

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में मंगलवार देर रात यात्रियों से भरी एक बस गहरी खाई …