Wednesday, August 17, 2022 at 10:05 AM

CJI NV Ramana ने आज रांची में “जस्ट ऑफ़ ए जज” पर ‘जस्टिस एस बी सिन्हा मेमोरियल लेक्चर’ का किया उद्घाटन

भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना झारखंड की राजधानी रांची में  नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ स्टडी एंड रिसर्च इन लॉ द्वारा आयोजित “जस्ट ऑफ़ ए जज” पर ‘जस्टिस एस बी सिन्हा मेमोरियल लेक्चर’ का उद्घाटन किया .

मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने न्यायपालिका की चुनौतियों और मीडिया के कार्य पर टिप्पणी करते हुए न्यायपालिका के भविष्य पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने यह भी कहा कि एक झूठा आख्यान बनाया गया है कि न्यायाधीशों का जीवन आसान होता है लेकिन वे जीवन की कई खुशियों, कभी-कभी महत्वपूर्ण पारिवारिक घटनाओं से चूक जाते हैं।

सीजेआई ने नूपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणियों के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जजों के खिलाफ सोशल मीडिया में कैंपेन चल रहे हैं। जज तुरंत प्रतिक्रिया नहीं दे सकते लेकिन, इसे उनकी कमजोरी या लाचारी नहीं समझना चाहिए।

चीफ जस्टिस एनवी रमना ने कहा कि मौजूदा समय में न्यायपालिका के सामने सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक निर्णय के लिए मामलों को प्राथमिकता देना है. जज सामाजिक वास्तविकताओं से आंखें नहीं मूंद सकते. जज को दबाव वाले मामलों को प्राथमिकता देनी होगी.

Check Also

क्या जल्द भारत चीन में शुरू होगा ‘महायुद्ध’ ? श्रीलंका पहुंचा ऐसा चीनी पोत जो चोरी छुपे करेगा भारत की जासूसी

भारत की आपत्ति के बावजूद चीनी शोध पोत युआन वांग-5 श्रीलंका के हंबनटोटा बंदरगाह पहुंच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *