Monday, July 15, 2024 at 8:35 AM

कॉफी पीने से टाइप 2 डायबिटीज का रिस्क होता हैं कई हद तक कम…

 डायबिटीज एक ऐसी लाइलाज बीमारी है, जिसे जड़ से खत्म नहीं किया जा सकता है.एक स्टडी में ऐसा दावा किया गया है कि कॉफी पीने से टाइप 2 डायबिटीज का रिस्क कम हो सकता है. क्लीनिक न्यूट्रीशियन जर्नल में छपी एक रिपोर्ट में इसका दावा किया गया है.

इस रिसर्च के शोधकर्ताओं ने दो पॉपुलेशन में बांट कर डेटा सेट का विश्लेषण किया, जिसमें यूनाइटेड किंगडम का यूके बायोबैंक और नीदरलैंड का रॉटरडैम शोध शामिल है. साल 2006 से 2010 तक यूके बायोबैंक में 5 लाख से ज्यादा लोगों को शामिल किया गया. वहीं, रॉटरडैम शोध में करीब 15 हजार लोगों को शामिल किया गया था.

टाइप 2 डायबिटीज से संबंधित इंफ्लामेशन बायोमार्कर के स्तर में परिवर्तन देखा. रिसर्च के अनुसार, रोजाना 1 कप कॉफी पीने से इंफ्लामेशन कम होने के चलते टाइप 2 डायबिटीज और इंसुलिन रेजिस्टेंट का खतरा 4 फीसदी कम होता है.हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो टाइप 2 डायबिटीज को आंशिक तौर पर एक इंफ्लामेटरी बीमारी माना जाता है.

Check Also

क्या ज्यादा चीनी खाने से जा सकती है आंखों की रोशनी? विशेषज्ञों की इस सलाह पर दें ध्यान

आहार में जिन दो चीजों की अधिकता को सेहत के लिए सबसे हानिकारक माना जाता …