Monday, February 26, 2024 at 11:37 PM

कैंसर से जंग जीतने के लिए करें ये तीन योगासन, रोजाना अभ्यास से मिलेंगे कई तरह के लाभ

बजट पेश करते हुए पिछले दिनों वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सर्वाइकल कैंसर का जिक्र करते हुए 9 साल से 40 वर्ष की महिलाओं के टीकाकरण की बात कही। वहीं अगले ही दिन अभिनेत्री पूनम पांडे के इंस्टाग्राम अकाउंट से एक पोस्ट की गई, जिसमें सर्वाइकल कैंसर से उनके निधन की सूचना दी गई। इसके पहले एक्टर आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा और सोनाली बेंद्रे ने कैंसर से जंग जीती थी। कैंसर, वैश्विक स्तर पर तेजी से बढ़ती गंभीर और जानलेवा स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है, जिसके कारण हर साल लाखों लोगों की मौत हो जाती है। दुनियाभर में कैंसर के बढ़ते खतरे को लेकर लोगों को जागरूक और शिक्षित करने के उद्देश्य से हर साल चार फरवरी को विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है।कैंसर के जोखिम से बचने और कैंसर पीड़ितों को इस बीमारी से लड़ने के लिए कुछ योगासनों का अभ्यास करना चाहिए। यहां कैंसर के खतरे को कम करने के लिए कुछ योगासनों के बारे में बताया जा रहा है। इन योगासनों के नियमित अभ्यास से कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं।

वक्रासन

इस आसन के अभ्यास के लिए सबसे पहले आराम से बैठ जाएं। अब दोनों पैरों को सामने की ओर फैलाते हुए उनके बीच कोई गैप न रखें। दाएं पैर को मोड़ते हुए बाएं पैर के घुटने के बगल में लाएं और दाएं हाथ को पीठ के पीछे ले जाते हुए जमीन पर टिकाएं। अब बाएं हाथ से दाहिने पैर के बाई ओर हाथ डालते हुए दाहिने पैर से घुटने को छुएं। श्वास की गति सामान्य रखें। रोजाना आधा से एक मिनट इस योग का अभ्यास करें।

गोमुखासन

इस योग के अभ्यास से शरीर को कई तरह के लाभ मिलते हैं। वज्रासन की मुद्रा में बैठकर दाहिने पैर को घुटने से मोड़ें और बाएं पैर के कुल्हें के नीचे रखें। बाएं पैर को दोनों हाथों से उठाकर घुटने से मोड़ते हुए दाहिने पैर के ठीक घुटने के ऊपर रखें। बाएं हाथ को ऊपर से लेकर पीठ की ओर ले जाएं। अब दूसरा हाथ नीचे से होते हुए पीठ के पास रखें। बाद में दोनों हाथों की अंगुलियों को एक दूसरे से पकड़ लें। इस आसन को पांच मिनट तक करें।

उष्ट्रासन

इस आसन को करने के लिए घुटनों के बल बैठकर आराम से हाथ हिप्स पर रख लें। पैरों के तलवे छत की तरफ रखें। सांस अंदर लेते हुए रीढ़ की निचली हड्डी को आगे की तरफ आने का दबाव बनाएं। फिर कमर को पीछे की तरफ मोड़ते हुए धीरे से हथेलियों की पकड़ पैरों पर मजबूत करें। कुछ देर बाद पुरानी अवस्था में आ जाएं और आराम करें।

Check Also

युवाओं में बढ़ रहा है हार्ट अटैक का खतरा, डॉक्टर बोले- ये तीन उपाय 40% तक कम कर सकते हैं जोखिम

हृदय रोगों के मामले पिछले कुछ वर्षों में काफी तेजी से बढ़े हैं, आश्चर्यजनक रूप …