Tuesday, September 27, 2022 at 3:22 AM

केजरीवाल द्वारा पेश किया गया विश्वास मत प्रस्ताव हुआ पास, पक्ष में खड़े हुए 58 सदस्य

दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल सरकार का विश्वास प्रस्ताव ध्वनिमत से पास हो गया है।प्रस्ताव के पक्ष में 58 (1 वोट डिप्टी स्पीकर का अलग यानी 59) जबकि विरोध में कोई वोट नहीं पड़ा.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि देश में लगभग 8-10 सरकारें उनकी निगाह में हैं. उन्होंने विधायकों को खरीदने के लिए 20-50 करोड़ तक ऑफर किए.  दिल्ली में एक भी विधायक नहीं खरीद सके. हमारे पास 62 विधायक हैं. हमारे पक्ष में 58 वोट पड़े हैं.

विधानसभा में भ्रष्टाचार के मामले पर चर्चा करने के लिए भाजपा विधायक विजेंद्र गुप्ता और विधानसभा उपाध्यक्ष राखी बिड़ला में जमकर बहस हुई, जिसके बाद उपाध्यक्ष ने विजेंद्र गुप्ता को पूरे सत्र के लिए निष्कासित कर दिया।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दावा किया कि मनीष सिसोदिया के पास कुछ भी नहीं मिला है।  उनको गिरफ्तार किया जाएगा वह गिरफ्तारी के लिए तैयार हैं।  विश्वास मत पर चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब मनीष सिसोदिया के घर पर सीबीआई की रेड हुई थी तो हमारा वोट शेयर 4 फीसदी बढ़ा था उन्होंने कहा उन्हें निरंतर प्रधानमंत्री से ईमानदारी का सर्टिफिकेट मिल रहा है। एक बार फिर मनीष सिसोदिया को भी ईमानदारी का सर्टिफिकेट मिल गया है।

Check Also

हरिद्वार त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव आज, दो प्रत्याशीयों के समर्थकों के बीच अकस्मित शुरू हुई मारपीट

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए सोमवार को हरिद्वार में मतदान शुर हुआ।  रुड़की ब्लॉक के माधवपुर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *