Friday, March 1, 2024 at 3:08 AM

खून सुखाने को सेनेटरी पैड का किया इस्तेमाल, सबूत मिटाने में न छोड़ी कोई कसर

हत्या के बाद दिव्या पाहुजा का शव ठिकाने लगाने वाले आरोपी बलराज गिल को पश्चिम बंगाल के एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे लेने के लिए पुलिस की टीम रवाना हो चुकी है। बलराज को हवाई जहाज से दिल्ली लाया जाएगा। इसकी निशानदेही पर पुलिस दिव्या पाहुजा के शव को बरामद करेगी। वहीं जांच में सामने आया है कि दिव्या पाहुजा की गोली मार कर हत्या करने के बाद होटल मालिक अभिजीत सिंह ने सबूत नष्ट करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। खून साफ करने के लिए सेनेटरी पैड तक का इस्तेमाल हुआ।

पटियाला में शव को ठिकाने पर लगाने के बाद दोनों आरोपी कैब से 14 घंटे की यात्रा कर उदयपुर पहुंचे थे। जहां पर होटल छोड़ने के बाद कोटा के रास्ते कानपुर की ओर निकल गए। आरोपियों की लोकेशन मिलने पर पुलिस एक टीम कानपुर रवाना हुई। वहां पहुंचने पर पता चला कि बलराज निकल चुका है। देर शाम कोलकाता एयरपोर्ट पर बलराज को हिरासत में लिया गया। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस की दूसरी टीम वहां पहुंची। पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा ने दिव्या के शव की पहचान बताने और शव को ठिकाने लगाने वाले आरोपी बलराज गिल और रवि बंगा के बारे में सूचना देने वाले पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था।

कार के साथ दोनों की फुटेज टोल पर मिली थी
पुलिस की छानबीन के दौरान दोनों आरोपियों की पंजाब के टोल पर एक कैब चालक के साथ तस्वीर मिल चुकी है। तस्वीर में दोनों के साथ एक और व्यक्ति है। जिसे कैच चालक माना जा रहा है।

होटल है सील, वारदात के बाद से ही है अंधेरा
बस स्टैंड के पास जिस सिटी प्वाइंट होटल में दिव्या की गोली मारकर हत्या हुई थी। उस होटल में दो जनवरी को रात से लाइट बंद है। होटल को सील कर दिया गया है। वहां पर काम करने वाले दो कर्मचारी तो होटल मालिक की मदद करने में जेल जा चुके हैं, जबकि अन्य कर्मचारी को बगल के होटल में काम पर रखा गया है।

200 से अधिक लोगों से पूछताछ
दिव्या पाहुजा हत्याकांड की जांच को लेकर पुलिस अब तक 200 से अधिक लोगों से पूछताछ कर चुकी है। बाद पूरी अपराध की टीम मामले की जांच में लगी हुई है। जिस स्थान पर बीएमडब्ल्यूए खड़ी मिली। उस स्थान से लेकर गुरुग्राम बस स्टैंड के पास ठेला लगाने वालों से भी पूछताछ की जा चुकी है। उस रात होटल में ठहरने वालों से लेकर सामने रेहड़ी लगाने वाले लोग भी शामिल है।

कमरे में फैले खून को सुखाने के लिए सेनेटरी पैड का हुआ था इस्तेमाल
दिव्या पाहुजा की गोली मार कर हत्या करने के बाद होटल मालिक अभिजीत सिंह ने सबूत नष्ट करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। होटल के कमरे में फैल रहे खून को सुखाने के लिए सेनेटरी पैड का इस्तेमाल हुआ था। जो खून से लथपथ वहां पर फेंके गए थे। पुलिस टीम यह भी जानने में जुटी है कि किस मेडिकल स्टोर से रात में यह लाया गया था।

दो माह पहले ही मेघा अभिजीत के संपर्क में थी आई
एसआईटी की ओर से दो दिन की पुलिस रिमांड के दौरान छानबीन में यह पता चला है कि मेघा दो माह पहले ही अभिजीत के संपर्क में आई थी। मेघा का एक और दोस्त है। जो अभिजीत को जानता था। पुलिस की ओर उसके कॉल डिटेल में उससे अधिक बातचीत मिली है।

Check Also

दिल्ली के इस रेलवे स्टेशन पर मिलेगी एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं, बेहतर होगी कनेक्टिविटी

राजधानी में एक और वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनेगा। इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के समीप …