Wednesday, July 6, 2022 at 6:06 PM

रूस ने अपनी सैन्य इकाइयों को मारियुपोल बंदरगाह से पूर्वी यूक्रेन भेजना किया शुरू, ये हैं अगला प्लान

रूस और यूक्रेन के बीच युद्धग्रस्त देश के औद्योगिक गढ़ पर नियंत्रण को लेकर संघर्ष शुरू हो सकता है क्योंकि यूक्रेनी अधिकारियों ने बताया है कि रूस ने अपनी सैन्य इकाइयों को मारियुपोल बंदरगाह से पूर्वी यूक्रेन भेजना शुरू कर दिया है.

इस बीच, रूस ने शुक्रवार को बताया कि युद्धपोत मोस्कवा में आग लगने के बाद एक सैनिक की मौत हो गई और 27 अन्य लापता हो गए. यह पोत एक सप्ताह पहले यूक्रेन के मिसाइल हमले के बाद डूब गया था. रूसी सेना ने पहले बताया था कि उसमें सवार सभी लोगों को बचा लिया गया है.

रूसी रक्षा मंत्रालय ने युद्धपोत पर एक हमले को स्वीकार नहीं किया. उसका कहना है कि गोला बारूद के विस्फोट के बाद उसमें आग लग गई. उसने हालांकि यह नहीं बताया कि यह यह कैसे हुआ. निर्देशित मिसाइल क्रूजर का नुकसान मास्को के लिए एक अपमानजनक झटका था.

इसने शहर के अज़ोवस्टल स्टील प्लांट की मुख्य इमारत को आग की लपटों में घिरा भी दिखाया. यूक्रेन की राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा परिषद के सचिव ओलेक्सी डैनिलोव ने कहा कि क्रेमलिन ने यूक्रेन में लड़ाई में सीरिया .

महापौर कार्यालय ने बताया कि रूसी सेना ने यूक्रेन के उन 2,000 लड़ाकों को निशाना बनाया है जो अभी भी विशाल अज़ोवस्टल संयंत्र के अंदर छुपे हुए हैं. मारियुपोल के मेयर के सलाहकार पेट्रो एंड्रीशचेंको ने कहा, ”हर दिन वे अज़ोवस्टल पर कई बम गिराते हैं. लड़ाई, गोलाबारी, बमबारी बंद नहीं हो रही.”

Check Also

दुनिया के बाद अब चाँद को लेकर चल रही अमेरिका-चीन में भिडंत, ड्रैगन ने खड़ा किया ‘अधिग्रहण’ का सवाल

दक्षिण चीन सागर से लेकर लद्दाख तक दादागिरी दिखा रहे चीन के अंतरिक्ष में बढ़ते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *