Monday, February 26, 2024 at 10:01 PM

बाबरी विध्वंस मामले में हिंदू कार्यकर्ता की गिरफ्तारी पर छिड़ी रार, धरने पर बैठे पूर्व मंत्री

बाबरी विध्वंस की घटना के बाद कर्नाटक में भड़के दंगों के मामले में कर्नाटक पुलिस ने हाल ही में एक हिंदू कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया था। भाजपा इस मुद्दे पर राज्य सरकार पर हमलावर हो गई है और जिस तरह से भाजपा इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी कर रही है, उससे लग रहा है कि यह मामला कर्नाटक में बड़ा राजनीतिक मुद्दा बन सकता है। भाजपा इसे लेकर राज्यभर में विरोध प्रदर्शन कर रही है। अब पूर्व कैबिनेट मंत्री सीटी रवि भी हिंदू कार्यकर्ता की गिरफ्तारी के विरोध में धरने पर बैठ गए हैं।

पुलिस स्टेशन में धरने पर बैठे पूर्व मंत्री
कर्नाटक के पूर्व कैबिनेट मंत्री और भाजपा नेता सीटी रवि गुरुवार को चिकमगलूर में टाउन पुलिस स्टेशन में धरने पर बैठ गए। वह हुबली में गिरफ्तार किए गए हिंदू कार्यकर्ता को रिहा करने की मांग कर रहे हैं। धरने प्रदर्शन के दौरान सीटी रवि राम भजन गाते नजर आए। भाजपा राज्य सरकार के खिलाफ प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन कर रही है। वहीं कांग्रेस भी इस मामले में झुकने के लिए तैयार नहीं दिख रही है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी कांग्रेस भवन में गुरुवार को धरना प्रदर्शन किया। कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता राज्य सरकार के खिलाफ झूठ फैला रहे हैं।

क्या है विवाद की वजह
दरअसल यह विवाद साल 1992 में बाबरी विध्वंस के बाद हुबली में भड़के सांप्रदायिक दंगों से जुड़ा है। आरोप है कि हुबली के श्रीकांत पुजारी समेत कई अन्य लोगों ने दंगे के दौरान एक मुस्लिम व्यक्ति की दुकान में आगजनी की थी। हाल ही में कर्नाटक पुलिस ने उस मामले में श्रीकांत पुजारी को गिरफ्तार किया है। राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम 22 जनवरी को होने जा रहा है। ऐसे वक्त पर हिंदू कार्यकर्ता की गिरफ्तार ने भाजपा को नाराज कर दिया है। भाजपा का आरोप है कि कांग्रेस सरकार ने बदले की राजनीति के तहत हिंदू कार्यकर्ता को अब इतने सालों बाद गिरफ्तार किया है

Check Also

निताशा कौल को लंदन डिपोर्ट करने पर राजनीति तेज; कांग्रेस और भाजपा नेताओं ने एक-दूसरे पर लगाए आरोप

कर्नाटक सरकार द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने आई भारतीय मूल की ब्रिटिश महिला …