Monday, April 22, 2024 at 5:41 PM

कहीं आपको भी तो नहीं है एलर्जी की समस्या? बार-बार होती हैं ये दिक्कतें तो हो जाइए अलर्ट

एलर्जी होना शरीर की सामान्य प्रतिक्रिया है, जो सामान्यतौर पर पर्यावरण में मौजूद पदार्थों के प्रति होती है। एलर्जी की प्रतिक्रिया कई अन्य वजहों जैसे मौसम में बदलाव, परागकण, पालतू जानवरों के रोए या फिर भोजन के कारण भी हो सकती है। एलर्जी की दिक्कत किसी को भी किसी पदार्थ से हो सकती है, इसके लक्षण आसानी से ठीक भी हो जाते हैं पर अगर आपको अक्सर ही एलर्जी बनी रहती है तो इस बारे में किसी विशेषज्ञ की सलाह जरूर ले लेनी चाहिए। एलर्जी के लक्षणों और इसके कारकों की पहचान जरूरी है ताकि इससे बचाव के लिए पर्याप्त उपाय किए जा सकें।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ बताते हैं, जब हमें किसी प्रकार की एलर्जी होती है तो प्रतिरक्षा प्रणाली एंटीबॉडी बनाती है। यही कारण है एलर्जेन के संपर्क में आने के कारण प्रतिरक्षा प्रणाली की प्रतिक्रिया की वजह से त्वचा, साइनस, वायुमार्ग या पाचन तंत्र में सूजन आ सकती है। एलर्जी की गंभीरता हर व्यक्ति में अलग-अलग होती, कुछ स्थितियों में इसके गंभीर रूप लेने का भी खतरा रहता है जिसका समय रहते उचित उपचार किया जाना चाहिए।

नाक बहने या फिर अक्सर बंद नाक की दिक्कत

यदि बाहर घूमने जाते हैं और कुछ ही समय में नाक बहने या नाक में जमाव की दिकक्त हो जाती है तो यह एलर्जिक राइनाइटिस की समस्या हो सकती है। आप जिस हवा में सांस लेते हैं उसमें मौजूद छोटे कणों के प्रति यह एक प्रतिक्रिया है। फफूंद बीजाणु, परागकण, डिटर्जेंट और क्लींजर के कारण होने वाली एलर्जी में आपको नाक बहने या बंद होने की समस्या होती है।

नाक बहने की समस्या को गंभीर संकेत नहीं माना जाता है पर अगर आपको अक्सर ही इस तरह की प्रतिक्रिया होती रहती है तो इसके कारकों की पहचान और उससे बचाव के उपाय करना जरूरी हो जाता है।

बार-बार छींक आना

एक-दो बार छींक आना सामान्य है लेकिन अगर आपको बार-बार छींक आ रही है तो यह किसी गंभीर एलर्जी का प्रारंभिक संकेत हो सकता है। कुछ लोगों को भोजन के कारण भी छींक आने की दिक्कत होती है। इसे साइनस के कारण भी होने वाली समस्या भी माना जाता है। यदि आपको अधिक और बार-बार इस तरह की प्रतिक्रिया होती रहती है तो इसका समय रहते उपचार किया जाना आवश्यक हो जाता है।

Check Also

भारत में मस्तिष्क विकारों के बढ़ते मामले चिंताजनक, स्वास्थ्य देखभाल को लेकर सरकार का बड़ा फैसला

मस्तिष्क विकार स्वास्थ्य क्षेत्र पर बढ़ते दबाव के प्रमुख कारणों में से एक हैं। भारत …