Monday, April 22, 2024 at 7:04 PM

अपने स्मार्टफोन में जरूर रखें यह सरकारी एप, वायरस चाहकर भी कुछ नहीं कर पाएंगे

यदि आपसे एंटीवायरस के बारे में पूछा जाए तो आप तुरंत 4-5 एंटीवायरस के नाम बता देंगे लेकिन यदि आपसे किसी सरकारी एंटीवायरस एप के नाम पूछा जाए तो आपको गूगल करना पड़ जाएगा। आप में से कई लोग ऐसे होंगे जो फोन के लिए एंटीवायरस एप का इस्तेमाल करते होंगे, लेकिन क्या आपको मालूम है कि भारत सरकार के पास भी अपना एंटीवायरस एप है। भारत सरकार के इस एंटीवायरस एप के बारे में बहुत ही कम लोगों को जानकारी है लेकिन यह एप बड़े ही काम का है।

भारत सरकार के ‘साइबर स्वच्छता केंद्र’ जिसे बोटनेट क्लीनिंग एंड मालवेयर एनालिसिस सेंटर के नाम से भी जाना जाता है ने एक फ्री बॉटनेट डिटेक्शन और रिमूवल टूल्स तैयार किया है। यह एप किसी भी तरह तरह के बॉट एप, मैलवेयर और वायरस को पहचानने में सक्षम है। इस एप के लिए इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर, एंटीवायरस बनाने वाली कंपनी और इंडियन कंप्यूटर रिस्पांस टीम (CERT-In) की साझेदारी हुई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ‘Bot’ एक तरह का मैलवेयर है और इसकी मदद से कोई हैकर आपके फोन का पूरा डाटा कॉपी कर सकता है। इस तरह के मैलवेयर और वायरस को फोन से हटाने और पहचानने के लिए सरकार ने eScan CERT-In Bot Removal एप लॉन्च किया है।

eScan CERT-In Bot Removal एप को आप गूगल प्ले-स्टोर से फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं। यह एप आपको किसी गलत और स्पैम वाली साइट पर जाने से रोकेगा। इसके अलावा यह एप आपके फोन को स्कैन करके बता सकता है कि आपके फोन में वायरस या मैलवेर हैं या नहीं।

यदि आपको भी इस बात का संदेह है कि आपके फोन में वायरस या मैलवेयर हो सकते हैं तो eScan CERT-In Bot Removal या ‘M-Kavach 2’ एप को अपने फोन में डाउनलोड करें। यह एप आपको प्राइवेसी के लिए बेहतर सुझाव भी देता है।

Check Also

बड़े काम का है गूगल का यह एप, सिर्फ स्मार्ट लोगों को ही है इसकी जानकारी

जिनके पास स्मार्टफोन है वो सभी गूगल का इस्तेमाल किसी-ना-किसी रूप में करते हैं लेकिन …