Tuesday, February 27, 2024 at 7:44 PM

झारखंड सरकार बचाने में कांग्रेस ने झोंकी ताकत, हैदराबाद के रिसॉर्ट में विधायकों पर पूरी नजर

झारखंड के सत्ताधारी गुट के विधायक हैदराबाद के एक प्राइवेट रिसॉर्ट में ठहरे हुए हैं। कांग्रेस ने झारखंड की अपनी गठबंधन सरकार बचाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। यही वजह है कि झारखंड के विधायकों को कांग्रेस ने अपनी सरकार वाले राज्य तेलंगाना में झारखंड के विधायकों को ठहराया है। हैदराबाद के प्राइवेट रिसॉर्ट में ठहरे विधायकों पर भी पूरी नजर रखी जा रही है और तेलंगाना सरकार लगातार झारखंड के विधायकों के संपर्क में है। तेलंगाना के डिप्टी सीएम मल्लु भट्टी विक्रमार्का ने आज सुबह रिसॉर्ट में झारखंड के विधायकों से मुलाकात की। झारखंड विधानसभा में कल यानी सोमवार को बहुमत परीक्षण होना है और उसी के लिए सत्ताधारी गुट ने किसी भी टूट से बचने के लिए विधायकों को हैदराबाद के रिसॉर्ट में रखा हुआ है।

रिसॉर्ट में 50 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात
झारखंड के सत्ताधारी गुट के 37 विधायक हैदराबाद के लियोनिया रिसॉर्ट में ठहरे हुए हैं। रिसॉर्ट में सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं और रिसॉर्ट के अंदर पुलिसकर्मी तैनात हैं। तेलंगाना कांग्रेस की प्रभारी दीपा दासमुंशी रिसॉर्ट में पूरे इंतजाम देख रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रिसॉर्ट के भीतर 50 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात हैं।

सोमवार को होगा झारखंड विधानसभा में बहुमत परीक्षण
जमीन घोटाले में हेमंत सोरेन ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद जेएमएम के वरिष्ठ नेता चंपई सोरेन को विधायक दल का नेता चुना गया। चंपई सोरेन ने शुक्रवार को राजभवन में सीएम पद की शपथ ली। चंपई सोरेन के साथ ही कांग्रेस के आलमगीर आलम और राजद के सत्यानंद भोक्ता ने मंत्री पद की शपथ ली। 5 फरवरी को झारखंड विधानसभा में बहुमत परीक्षण होगा, जिसमें सरकार को बहुमत साबित करना होगा। हेमंत सोरेन भी फ्लोर टेस्ट में शामिल होंगे। कोर्ट ने उन्हें इसकी इजाजत दे दी है।

Check Also

संदेशखाली जा रहे TMC के कट्टर विरोधी ISF विधायक को पुलिस ने रोका, जमकर हुई नोकझोंक

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में स्थित संदेशखाली गांव इन दिनों चर्चा में …