Tuesday, February 27, 2024 at 6:51 PM

सोमनाथ मंदिर के पास भूमि खाली कराने के लिए चला अतिक्रमण विरोधी अभियान, 21 घर और 53 झोपड़ियां गिराए गए

गुजरात के गिर सोमनाथ जिले में सोमनाथ मंदिर के पीछे मंदिर ट्रस्ट और राज्य सरकार की तीन हेक्टेयर भूमि को खाली करने के लिए अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया गया है। श्री सोमनाथ ट्रस्ट की जमीन को खाली कराने के लिए अनधिकृत रूप से बने करीब 21 घरों और 153 झोपड़ियों को गिराया गया।

शुरू हुआ अतिक्रमण विरोधी अभियान
घरों और झोपड़ियों को गिराने का अभियान शनिवार की सुबह शुरू हो गया। इस दौरान मामलतदार और 100 राजस्व अधिकारी भी मौजूद थे। इलाके में सुचारू रूप से अभियान चलाने के लिए भारी पुलिसकर्मियों की भी तैनाती की गई थी।

राजस्व विभाग से जारी नोटिस के अनुसार, भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराने के बाद वहां बाड़ लगाई जाएगी। सोमनाथ मंदिर अरब सागर के तट पर वेरावल शहर के पास प्रभास पाटन में स्थित है। ऐसा माना जाता है कि यह भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग मंदिरों में से पहला है। यह एक प्रमुख तीर्थस्थल है।

बड़ी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती
जिला कलेक्टर ने कहा, हमने अनधिकृत रूप से बने घरों को गिराने का काम शुरू कर दिया है। इसे बाड़ लगाकर सुरक्षित किया जाएगा। इस अभियान से पहले हमने अतिक्रमणकारियों के प्रतिनिधियों के साथ 25 जनवरी को बैठक की और पूरी प्रक्रिया पर विस्तार से बात की। गिर सोमनाथ जिले के पुलिस अधीक्षक मनोहरसिंह जडेजा ने कहा कि अभियान सुचारू रूप से चले इसे सुनिश्चित करने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। शाम तक इस अभियान के खत्म होने की उम्मीद जताई जा रही है।

एक अधिकारी ने बताया कि यह जमीन सरकार और मंदिर ट्रस्ट की है। यहां दो एसआरपी (स्टेट रिजर्व पुलिस) कंपनियां और 500 पुलिसकर्मी तैनात हैं। इलाके में प्रवेश और निकास पर रोक लगा दी गई है। आपात स्थिति से निपटने के लिए दमकलकर्मियों, रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) और त्वरित प्रतिक्रिया टीम (क्यूआरटी) की टीमों को स्टैंडबाय पर रखा गया है।

Check Also

संदेशखाली जा रहे TMC के कट्टर विरोधी ISF विधायक को पुलिस ने रोका, जमकर हुई नोकझोंक

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में स्थित संदेशखाली गांव इन दिनों चर्चा में …