Monday, March 4, 2024 at 6:32 AM

मजदूर ने चलाया फावड़ा, तो कोयले की खदान से निकला करोड़ों साल पुराना ‘खजाना’

कोयले की खदान में खुदाई के दौरान मजदूरों को करोड़ों साल पुराना खजाना हाथ लगा है. अमेरिका के नॉर्थ डकोटा शहर में खुदाई के दौरान मजदूरों के काफी पुराना मैमथ (हाथी के पूर्वज) का दांत मिला है. बताया जा रहा कि यह खदान के अंदर विलुप्त हो चुकी नदी के तल में दबा हुआ था. एक मजदूर को फावड़ा चलाने के दौरान दबा हुआ 2 मीटर लंबा विशाल दांत मिला, जो अनुमानतः 10 हजार से 1 लाख साल पुराना है. खदान से आमतौर पर सालाना लाखों तन लिग्नाइट कोयले का उत्पादन करती है.

कोयले के खदान में भारी उपकरणों के इस्तेमाल बाद भी लाखों साल पुराने विशाल दांत की अच्छी तरह से संरक्षित स्थिति से विशेषज्ञ काफी आश्चर्यचकित थे. आगे की खुदाई में भी 20 से अधिक हड्डियाँ मिलीं हैं, जो बताती है कि संभवतः नॉर्थ डकोटा में मैमथ ज्यादा मात्रा में पाए जाते थे.

अतीत से
आज के हाथियों से काफी बड़े मैमथ कभी पृथ्वी पर घूमते थे. यह विशाल खोज उनके इतिहास के बारे में मूल्यवान जानकारी प्रदान करती है, जिसमें संभावना जाताई जारी हैं कि सभी हड्डियाँ एक ही जानवर की हैं. मैमथ के पूरे कंकाल की तुलना में कम हड्डियों के बावजूद, यह खोज काफी महत्वपूर्ण है.

मैमथ का दांत.

भारी पर वजनी है दांत
यह विशाल दांत 22.6 किलोग्राम से अधिक वजनी है लेकिन यह काफी नाजुक होता है. इनके क्षति को रोकने के लिए, जीवाश्म विज्ञानियों ने नियंत्रित निर्जलीकरण के लिए इसे प्लास्टिक में लपेट दिया. हड्डियां महीनों तक लिपटी रहेंगी. खदान कंपनी ने शिक्षा के क्षेत्र में स्टडी के लिए दान करना चाह रहे हैं.

जीवाश्मों का खजाना
रॉकी पर्वत के पास नॉर्थ डकोटा का परिदृश्य जीवाश्मों का खजाना है. राज्य की रणनीतिक स्थिति और पारिस्थितिक इतिहास ने प्राचीन जीवन के अवशेषों को संरक्षित किया है, जिससे यह जीवाश्म विज्ञानियों के लिए एक आकर्षक क्षेत्र बन गया है.

Check Also

रामलला के दरबार में फफक कर रो पड़े विधायक, बोले- सपा नेतृत्व ने अयोध्या आने से रोका था

गोसाईगंज से समाजवादी पार्टी के बाहुबली विधायक अभय सिंह ने शनिवार को रामलला के दर्शन …