Monday, July 22, 2024 at 10:54 PM

ये हैं सबसे आसान योगासन, रोजाना 5 मिनट करने से मिलते हैं अनेकों स्वास्थ्य लाभ

21 जून 2024 को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। दुनियाभर में इस दिन योग का प्रचार- प्रसार किया जाता है और योग के महत्व से लोगों को जागरूक करते हैं। योग मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। योग मानसिक तौर पर व्यक्ति को शांति प्रदान करता है, अच्छी नींद और तनाव व थकान दूर करता है। वहीं योग आंतरिक और बाहरी शरीर को स्वस्थ बनाता है। मांसपेशियों की मजबूती, बेहतर रक्त प्रवाह, वजन पर नियंत्रण होता है।

जो लोग पहली बार योग का अभ्यास कर रहे हैं, उन्हें योग गुरु की देखरेख और विशेषज्ञ की सलाह से ही योग शुरू करें। शुरुआती समय में योग करना कठिन लगता है। इसलिए कुछ आसान योगासनों के अभ्यास से शुरुआत करें। यहां आपको कुछ आसान योग क्रियाएं बताई जा रही हैं। इन आसन योगासनों से करें अभ्यास की शुरुआत।

वृक्षासन योग

विशेषज्ञ वृक्षासन के नियमित अभ्यास की सलाह देते हैं। इस आसन को काफी आसानी से किया जा सकता है। सभी आयु वर्ग के लोग इस अभ्यास को कर सकते हैं। वृक्षासन योग या ट्री पोज़ आपके पैरों और जोड़ों को मजबूत करने में मदद करता है। इसके अलावा शारीरिक संतुलन में सुधार करने और वजन को नियंत्रित बनाए रखने में भी इस योग के अभ्यास से लाभ पाया जा सकता है।

पद्मासन योग

पद्मासन योग को शरीर और मन दोनों की बेहतर सेहत के लिए सबसे कारगर योगाभ्यास के तौर पर जाना जाता है। आराम की मुद्रा में बैठकर किया जाने वाला यह योगासन कूल्हों, टखनों और घुटनों के लिए विशेष लाभकारी माना जाता है। इस योग का अभ्यास मस्तिष्क को शांत करने से लेकर जागरूकता और ध्यान बढ़ाने में भी फायदेमंद पाया गया है। मासिक धर्म की परेशानियों और जोड़ों को समस्याओं को दूर करने में भी इस योग के अभ्यास से लाभ मिल सकता है।

मार्जरी योग

मार्जरी आसन को कैट-काऊ पोज कहा जाता है। यह एक आसान लेकिन अति प्रभावी योग मुद्रा है। इस योग से संतुलन में सुधार और पीठ दर्द से राहत मिलती है। तनाव को कम करने और पेट के अंगों को स्वस्थ रखने के लिए इस योग का नियमित अभ्यास लाभकारी होता है। मार्जरी आसन का अभ्यास करके सभी आयु वर्ग के लोग लाभ पा सकते हैं।

Check Also

ये रहे उत्तराखंड के प्राचीन शिव मंदिर, इस सावन माह में करें दर्शन

सावन माह की शुरुआत 22 जुलाई 2024 के हो रही है। धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, …