Tuesday, July 16, 2024 at 5:48 AM

देश की प्रसिद्ध और ऐतिहासिक मस्जिद, जहां ईद-उल-अजहा के मौके पर जा सकते हैं आप

इस वर्ष 17 जून 2024 को ईद उल अजहा का पर्व मनाया जा रहा है। ईद उल अजहा कुर्बानी का पर्व है, इसलिए इसे बकरीद भी कहते हैं। बकरीद के मौके पर मस्जिदों में नमाज अदा की जाती है और इसके बाद अपने परिवार, रिश्तेदारों को मुबारकबाद दी जाती है। साथ ही कुर्बानी करके दान दिया जाता है।ईद उल अजहा के मौके पर छुट्टी मिल रही है। ऐसे में आप ईद उल अजहा की नमाज के लिए देश की सबसे प्रसिद्ध मस्जिदों में जा सकते हैं। इस लेख में भारत की मशहूर और ऐतिहासिक मस्जिदों के बारे में बताया जा रहा है।

ताज-उल-मस्जिद, भोपाल

मध्य प्रदेश के भोपाल में देश की सबसे बड़ी मस्जिद स्थित है। इसे एशिया की सबसे बड़ी मस्जिदों में गिना जाता है। भोपाल की ताज उल मस्जिद के निर्माण की शुरुआत मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर के दौर में नवाब सैयद सिद्दीक हसन खान की पत्नी शाह जहां बेगम ने बनवाई थी। बाद में मस्जिद को पूरा उनकी बेटी सुल्तान जहान बेगम ने कराया। इस मस्जिद के निर्माण में करीब 141 वर्ष का समय लगा।

जामा मस्जिद, दिल्ली

भारत की राजधानी दिल्ली की जामा मस्जिद पूरी दुनिया में मशहूर है। इस मस्जिद का असल नाम मस्जिद ए जहान नुमा है। इसका निर्माण मुगल बादशाह शाहजहां ने 1650-56 के बीच कराया था। उस वक्त मस्जिद के निर्माण में करीब 10 लाख रुपये खर्च किए गए थे। लाल पत्थरों और सफेद मार्बल से मस्जिद तैयार कराई गई थी।

मक्का मस्जिद, हैदराबाद

देश की सबसे बड़ी मस्जिदों में हैदराबाद की मक्का मस्जिद शामिल है। इसका निर्माण सुल्तान मुहम्मद कुली कुतुब शाह ने कराया था। इस मंदिर में एक वक्त में बीस हजार लोग नमाज अदा कर सकते हैं। इस मस्जिद का मुख्य हाॅल 75 फीट ऊंचा है।

जामा मस्जिद, आगरा

मुगल बादशाह शाहजहां ने कई अद्भुत निर्माण कराए। इन्हीं इमारतों में से एक आगरा का जामा मस्जिद है। इस मस्जिद को शाहजहां ने अपनी बेटी जहांआरा की याद में बनवाया था। इस मस्जिद की पश्चिमी दीवार की मेहराबें बहुत खूबसूरत हैं।

Check Also

सुबह खाली पेट किया जा सकता है काजू का सेवन, फायदे जान आप भी खाने लगेंगे

बात अगर ड्राई फ्रूट्स की करें, तो इसमें ज्यादातर लोगों को काजू सबसे ज्यादा पसंद …