Thursday, May 30, 2024 at 5:09 AM

कानपुर में पार्टी को एकजुटता का सख्त संदेश, आज इटावा में जनसभा करेंगे पीएम मोदी, ये थे रोड शो के मायने

कानपुर:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कानपुर में अपने पहले रोड शो के जरिये पार्टी नेताओं के मतभेदों पर विराम लगा दिया। वह लोकसभा के चौथे चरण की कानपुर की अपनी पहली चुनावी यात्रा से सारे समीकरण भी बैठा गए। इसमें दलितों, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक, सिख समाज, सिंधी समाज, संत समाज, महिलाओं, युवाओं सभी पर उनका फोकस रहा। कानपुर के विकास को लेकर उनकी जो योजनाएं हैं, जिन्हें वह अपनी अगली पारी में पूरा करने करना चाहते हैं, वह भी बता गए। पीएम मोदी ने गुमटी नंबर पांच स्थित गुरुद्वारे में मत्था टेककर कानपुर से पूरे देश के सिखों को भी संदेश दिया।

रोड शो के लिए जब वह कानपुर के लिए रवाना हुए थे, उसी दौरान उन्होंने यहां के नेताओं के बीच खींचतान को भांपते हुए प्रमुख नेताओं को चकेरी एयरपोर्ट पर ही बुला लिया था। जिसमें वर्तमान सांसद सत्यदेव पचौरी को विशेष रूप से बुलाया गया। पचौरी को मोदी का संदेश भाजपा प्रदेश कार्यालय से मिला। जिसमें उनसे कहा गया कि वह तत्काल एयरपोर्ट पहुंचें, पीएम मोदी ने बुलाया है। सिर्फ पचौरी ही नहीं, उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना के अलावा वहां सभी विधायकों से कहा कि सभी का एक ही लक्ष्य होना चाहिए, वह है भाजपा की जीत।
सबका साथ, सबका विकास फार्मूला अपनाया
पीएम के इस पहले रोड शो को जिस तरह से सवा किलोमीटर के रास्ते में 37 ब्लॉकों में बांटकर, उसमें प्रत्येक समाज के लोगों को जगह दी गई, उससे उन्होंने न सिर्फ सिख समाज बल्कि एक ही साथ अगड़ा, पिछड़ा, सभी को अपना मौन संदेश दिया कि सभी का हित भाजपा में ही है। उनके आने के बाद जिस तरह से लोगों में उत्साह दिखा, माना जा रहा है कि उससे महानगर और अकबरपुर के साथ ही आसपास के कई लोकसभा क्षेत्रों में पार्टी का प्रभाव दिखेगा।

पचौरी के समर्थक पूरे मन से नहीं जुट रहे हैं
यात्रा के दौरान पीएम अपने साथ सिर्फ महानगर और अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र के प्रत्याशियों के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और सांसद सत्यदेव पचौरी को साथ लेकर चले। पचौरी का इस बार टिकट कटने के बाद भाजपा और लोगों में यह संदेश जा रहा था कि नए घोषित प्रत्याशी के साथ पचौरी के समर्थक पूरे मन से नहीं जुट रहे हैं। इस खाई को पाटने के लिए भी उन्होंने सबका साथ-सबका विकास वाले अपने फार्मूले का प्रयोग किया।

मोदी के रोड शो के मायने

गुरुद्वारे में माथा टेक देश भर के सिख समुदाय को दिया संदेश
गुमटी नम्बर 5 स्थित कीर्तनगढ़ गुरुद्वारे में माथा टेक कर पीएम मोदी ने देशभर के सिख समुदाय को संदेश देने की कोशिश की है। 70 साल पुराने इस गुरुद्वारे का देश ही नहीं विदेशों में भी महत्व है। संत बाबा मोहन सिंह द्वारा बनवाए गए इस गुरुद्वारे में पंजाब, चंडीगढ़, सूरत, दिल्ली आदि स्थानो के अलावा बैंकॉक, कनाडा, इंगलैंड और अमेरिका से लोग माथा टेकने आते हैं। जाहिर है इस गुरुद्वारे में पीएम मोदी के जाने से संदेश पूरे देश कसिाथ साथ पंजाब और हरियाणा के सिख समुदाय में भी जाएगा, जहां आगे चुनाव होने जा रहे हैं।

Check Also

पूरा प्रदेश बिजली कटौती की चपेट में, उपभोक्ता परेशान, बिजली कर्मी बोले, अधिक लोड होने से आ रही समस्या

लखनऊ:  प्रदेश में मंगलवार को 29261 मेगावाट बिजली आपूर्ति के साथ नया रिकॉर्ड बन गया …