Tuesday, February 27, 2024 at 7:00 PM

मेडिकल कॉलेज पहुंचे खांसी, जुकाम व बुखार से पीड़ित रोगी

उत्तर प्रदेश के एटा में मौसम में बदलाव का असर स्वास्थ्य पर भी पड़ रह है। लापरवाही की स्थिति में वायरल संक्रमण घेर रहा है। मेडिकल कॉलेज में जुकाम, बुखार, के मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। सोमवार को मेडिकल कॉलेज के मेडिसन विभाग की ओपीडी में पहुंचे करीब 300 मरीजों में से लगभग 200 मरीजों को इसी तरह की परेशानियां थीं।

मौसम में लगातार परिवर्तन हो रहा है। दिन में अधिकतम तापमान 21 डिग्री और न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच गया है। शाम को तापमान में गिरावट से सर्दी का अहसास होने लगता है। बदलते मौसम में अक्सर लोग लापरवाही कर बैठते हैं। ठंडे खाद्य-पेय पदार्थों का इस्तेमाल कर लेते हैं। वहीं कपड़े पहनने में भी लापरवाही देखी जा रही है। इसके चलते बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।

रविवार के अवकाश के बाद सोमवार को मेडिकल कॉलेज की ओपीडी खुलने से पहले ही मरीज पहुंचना शुरू हो गए थे। पूरे दिन में करीब 1300 मरीजों ने पर्चे बनवाकर चिकित्सकों से परामर्श और उपचार लिया। मेडिसन विभाग में सामान्य दिनों में अब तक 100 से 150 मरीज पहुंच रहे थे।

ठंडे पदार्थों के सेवन से रहें दूर
सोमवार को यह संख्या बढ़कर करीब 300 पहुंच गई। मेडिसिन विभाग में मरीजों का उपचार कर रहे डॉ. माधवेंद्र प्रताप ने बताया कि मौसम में परिवर्तन हो रहा है। जिससे लोग बीमार पड़ रहे हैं इस समय सबसे ज्यादा मरीज सर्दी, जुखाम, बुखार के पहुंच रहे हैं। सावधानी बरतने की विशेष जरूरत है। सर्दी बचाने के लिहाज से कपड़े पहनें और बासी व बाहर के भोजन से परहेज करें। ठंडे पदार्थों के सेवन से दूर रहें।

ऐसे करें बीमारियों से बचाव

  • सुबह-शाम गर्म कपड़े जरूर पहनें।
  • ठंडी चीज खाने से बचे ।
  • साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।
  • जुकाम होने पर मास्क लगाएं।
  • समस्या होने पर चिकित्सक से सलाह लें।
  • बिना चिकित्सक की सलाह के दवा का सेवन न करें।

Check Also

सुबह की ये गड़बड़ आदतें आपकी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक, आज से ही कर लें इनमें सुधार

स्वस्थ दिनचर्या आपको कई प्रकार की बीमारियों से बचाने में मददगार हो सकती है। विशेषकर …