Tuesday, July 16, 2024 at 4:58 AM

‘मेडिकल परीक्षा के प्रश्नपत्रों की बिक्री या सार्वजनिक करने का कोई सबूत नहीं’, केरल पुलिस का दावा

विदेशी मेडिकल स्नातक परीक्षा की उत्तर कुंजी को सोशल मीडया पर जारी करने के एक दिन बाद केरल पुलिस ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने बताया कि फिलहाल इस बात को कोई सबूत नहीं है कि किसी को भी इस परीक्षा के प्रश्न पत्र मिले हैं। पुलिस ने एक बयान जारी कर छात्रों को सावधान रहने के लिए कहा। उन्होंने ऐसे घोटालों में न फंसने और प्रश्नपत्र के लिए पैसे न देने की भी अपील की।

पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर उत्तर कुंजी कैसे जारी हुआ, इसकी जांच शुरू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि परीक्षा प्रक्रिया को बाधित करने का कोई भी प्रयास अपराध है। इसमें शामिल लोगों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी। सभी प्रकार के सोशल मीडिया पर चौबीसों घंटे कड़ी निगरानी रखी गई।

बता दें कि विदेशों से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद भारत में अभ्यास करने वालों को राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित विदेशी मेडिकल स्नातक परीक्षा पास करना होता है। तिरुवनंतपुरम में साइबर क्राइम पुलिस ने गुरुवार को उन समूहों के खिलाफ मामला दर्ज किया जिन्होंने टेलीग्राम ग्रुप में छह जुलाई को होने वाले परीक्षा के लिए उत्तर कुंजी बिक्री का विज्ञापन जारी किया था। पब्लिक एग्जामिनेशन एक्ट 2024 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस नियम के तहत पहला मामला दर्ज किया गया है।

Check Also

आरक्षण के मुद्दे को और धार देगी कांग्रेस, अगस्त से शुरू होगा आंदोलन, भर्तियों के जुटाए जा रहे सुबूत

लखनऊ:  कांग्रेस आरक्षण के मुद्दे को निरंतर धार देगी। इसके लिए पार्टी शैक्षिक एवं चिकित्सा …