Monday, May 27, 2024 at 8:34 PM

नींबू पानी पीते हैं तो जरूर पढ़ें ये खबर, कहीं फायदे की जगह नुकसान तो नहीं हो रहा शरीर को

गर्मियों में नींबू पानी को काफी पसंद किया जाता रहा है। ये पेय न सिर्फ शरीर को निर्जलीकरण से बचाती है साथ ही नींबू पानी पीने से सेहत को भी कई लाभ मिलते हैं। तेज गर्मी में शरीर को तरोताजा करने, नींबू में विटामिन-सी की मौजूदगी के कारण इम्युनिटी मजबूत होने सहित इसके कई लाभ हैं। पर इस तरह के फायदों के लिए कहीं आप बहुत अधिक मात्रा में तो इसका सेवन नहीं कर रहे हैं?

अध्ययनों में नींबू पानी पीने से होने वाले तमाम प्रकार के स्वास्थ्य लाभ के बारे में बताया गया है, जिनमें हाइड्रेशन को बढ़ावा देना, वजन घटाने में सहायता करना और विटामिन-सी की पूर्ति करना प्रमुख है। पर स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, इसका सेवन आपको संयमित मात्रा में ही करना चाहिए। बहुत अधिक मात्रा में नींबू पानी पीने या गलत तरीके से इसका सेवन करने से दांतों से लेकर संपूर्ण स्वास्थ्य को कई प्रकार से नुकसान हो सकता है। आइए नींबू पानी पीने से होने वाले फायदों और नुकसान के बारे में जानते हैं।

पहले जान लीजिए इसके क्या-क्या फायदे हैं?

नींबू को कई प्रकार के पोषक तत्वों से भरपूर माना जाता है, मुख्यरूप से ये विटामिन-सी का सबसे अच्छा स्रोत है। इसे हृदय स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है साथ ही कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू और शहद मिलाकर इसका सेवन करने से वजन को कंट्रोल रखने में मदद मिल सकती है। नींबू पानी किडनी स्टोन से बचाने, एनीमिया के खतरे को कम करने और पाचन स्वास्थ्य में सुधार करने में भी आपके लिए मददगार है। इन फायदों के इतर नींबू पानी पीने के कई दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं जिसके बारे में जानना जरूरी है।

दांतो के लिए ये बहुत नुकसानदायक

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने बताया नींबू के रस में लगभग 5-6% साइट्रिक एसिड होता है। इसके अधिक सेवन से नींबू पानी में मौजूद एसिड के संपर्क में आने से दांतों के इनेमल को काफी नुकसान हो सकता है। यहां तक कि नींबू पानी की अधिकता दांतों की कठोर बाहरी परत से लेकर डेंटिन तक को क्षति पहुंचा सकती है। डेंटिन इनेमल के नीचे की परत है जो तंत्रिकाओं की रक्षा करती है और दांत की मुख्य सहायक संरचना है।

बढ़ सकती है हार्ट बर्न की समस्या

बहुत अधिक मात्रा में नींबू पानी हो या खट्टे फलों का सेवन करने वाले लोगों को पेट संबंधी विभिन्न समस्याएं होने का खतरा रहता है। इसकी अधिकता एसिड रिफ्लक्स, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं, मतली-उल्टी जैसी दिक्कतों का कारण बन सकती है। अधिक मात्रा में नींबू पानी पीने के कारण पेट में अमल्ता बढ़ने का खतरा रहता है। जिन लोगों को पहले से ही हार्ट बर्न की दिक्कत रहती है उन्हें अधिक मात्रा में नींबू पानी पीने से बचना चाहिए।

इन सावधानियों का रखें ध्यान

  • नींबू पानी से होने वाले दुष्प्रभावों से बचाव के लिए कुछ प्रकार के उपायों से लाभ पाया जा सकता है।
  • नींबू के रस को ठंडे पानी में आधा-आधा अनुपात में मिलाएं। ठंडा पानी नींबू की घुलनशीलता को कम कर देता है जिससे यह इनेमल को कम नुकसान पहुंचाता है।
  • नींबू पानी पीने के लिए स्ट्रॉ का उपयोग करें और इससे दांतों से इसका सीधा संपर्क नहीं होता है।
  • नींबू पानी के एसिड लार में मिलकर भी दांतों को क्षति पहुंचा सकते हैं। इससे बचावे के लिए नींबू पानी पीने के बाद अच्छे से कुल्ला जरूर करें।
  • साइट्रिक एसिड के क्षयकारी प्रभाव को कम करने के लिए नींबू पानी पीने के लगभग एक घंटे बाद अपने दांतों को अच्छे से साफ करें।

 

Check Also

क्रिकेट प्रेमी लड़कियों को पसंद आएंगे जान्हवी कपूर के ये आउटफिट, आप भी डालें एक नजर

बॉलीवुड के चमकते सितारे राजकुमार राव और जान्हवी कपूर की मोस्ट अवेटेड फिल्म ‘मिस्टर एंड …