Tuesday, July 16, 2024 at 5:46 AM

मणिपुर में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करेंगे गृह मंत्री अमित शाह, सेना के कई वरिष्ठ अधिकारी भी होंगे शामिल

देश में तीसरी बार सत्ता में काबिज केंद्र सरकार देश के कई राज्यों में सुरक्षा की स्थिति को लेकर काफी सख्त नजर आ रही है। दरअसल कुछ दिन पहले जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने कई जगहों पर हमला किया था। जिसे लेकर प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उच्च स्तरीय बैठक की थी। जिसमें सेना और सुरक्षाबलों के अधिकारियों को अहम निर्देश भी दिए गए थे। इसके बाद केंद्र सरकार अब अन्य राज्यों में सुरक्षा के स्थिति को लेकर समीक्षा करने वाली है।

राज्यों में सुरक्षा स्थिति को लेकर केंद्र सख्त
इस कड़ी में अब केंद्र सरकार हिंसा प्रभावित राज्यों में सुरक्षा स्थिति को लेकर सख्त हो गई है। गृह मंत्रालय के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय बैठक होगी। जिसमें केंद्र, राज्य सरकार, सेना और सुरक्षा बलों के वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे। इस बैठक में राज्य के हिंसा प्रभावित इलाकों में सुरक्षा की समीक्षा की जाएगी। बता दें कि मणिपुर में पिछले 10 दिनों में कई जगहों से हिंसक घटनाएं सामने आयी थी।

मुख्यमंत्री के काफिले पर हुआ था हमला
10 जून को कांगपोकपी जिले में मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के काफिले पर घात लगाकर हमला किया गया था। जिसमें एक जवान के घायल होने की सूचना मिली थी। ये हमला तब हुआ था जब मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह का काफिला हिंसा प्रभावित जिरीबाम इलाके की ओर जा रहा था। हालांकि इस मामले में कार्रवाई करते हुए मणिपुर पुलिस ने इंफाल-जिरीबाम सड़क के किनारे के सिनाम गांव में संदिग्ध कुकी उग्रवादियों के कब्जे वाले चार बंकरों को ध्वस्त किया था।

इंफाल में एक घर में फेंका गया था ग्रेनेड
वहीं राजधानी इंफाल में 11 जून को पोरोम्पैट में जवाहरलाल नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (जेएनआईएमएस अस्पताल) में न्यूरोसर्जन डॉ. एम अमित कुमार के घर पर हमलावरों मे ग्रेनेड से हमला किया था। हालांकि इस हमले में कोई हताहत नहीं हुआ था। इस दौरान फेंके गए दो ग्रेनेड बमों में से एक ही फटा था, जिससे सिर्फ गाड़ी को नुकसान पहुंचा था। वहीं दूसरे ग्रेनेड को पुलिस ने निष्क्रिय कर दिया था।

Check Also

फिर गरमाया कावेरी जल विवाद, CM ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, बोले- किसानों से धोखा बर्दाश्त नहीं करेंगे

चेन्नई: कावेरी जल विवाद फिर से गरमा गया है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने …