Friday, July 1, 2022 at 11:20 PM

राष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने द्रौपदी मुर्मू को बनाया उम्मीदवार, इससे पार्टी को होगा ये फायदा

18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए नेझारखंड की पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को एनडीए का उम्मीदवार घोषित कर दिया. द्रौपदी मुर्मू के नाम की घोषणा के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो राजनीतिक चाल चली है उसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार फंस चुके हैं.आंकड़ों के हिसाब से अभी द्रौपदी मुर्मू ही मजबूत मानी जा रहीं हैं। मुर्मू आदिवासी समाज से आती हैं।

अगर वह चुनाव जीतती हैं तो ये पहली बार होगा जब देश के सबसे सर्वोच्च पद पर कोई आदिवासी पहुंचेगा। द्रौपदी के प्रत्याशी बनते ही सियासी गलियारे में कई तरह की चर्चाएं होने लगीं। अब अगर चुनावी समीकरणों को देखें तो ओडिशा से आने के कारण सीधे तौर पर मुर्मू को बीजू जनता दल (बीजद) का समर्थन मिल रहा है। यानी बीजद के 31,000 मत भी उनके पक्ष में पड़ेंगे।

इसके बाद 2017 में भी जब नीतीश कुमार आरजेडी के साथ मिलकर सरकार चला रहे थे तो उन्होंने फिर से अलग लाइन लेते हुए एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था. इससे स्पष्ट है कि पिछले दो बार के राष्ट्रपति चुनाव पर नजर डालें तो नीतीश कुमार हमेशा उस उम्मीदवार का समर्थन करते हैं .

Check Also

नाटो में शामिल होने की फिनलैंड और स्वीडन को क्या मिलेगी सजा, पुतिन ने दे डाली सख्त चेतावनी

रूस और यूक्रेन युद्ध के बीच  बीते कुछ दिनों से रूसी सैनिक लगातार यूक्रेन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *