Sunday, June 23, 2024 at 10:37 PM

BJP ने पूछा- आतिशी के पास कहां से आया केजरीवाल का पत्र, बिना दस्तखत की चिट्ठी को बताया फ्रॉड

अरविंद केजरीवाल की रिमांड पर अदालत ने आदेश सुरक्षित रख लिया है। कुछ ही देर में यह तय हो जाएगा कि वे दोबारा जेल जाते हैं, या उन्हें बाहर जाने की अनुमति मिल जाएगी। लेकिन इसी बीच भाजपा ने आम आदमी पार्टी से कुछ गंभीर प्रश्न किए हैं, जिसका जवाब आने के बाद आप के कुछ नेताओं की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। भाजपा ने आम आदमी पार्टी नेताओं से यह प्रश्न पूछा है कि आखिर उन्हें प्रवर्तन निदेशालय की गिरफ्त में जेल में बंद अरविंद केजरीवाल का पत्र कैसे मिला?

दरअसल, इसके पहले अमर उजाला ने संविधान के विशेषज्ञों से बात की थी। उनका मानना था कि प्रवर्तन निदेशालय की गिरफ्त में जेल में बंद कोई व्यक्ति पत्राचार नहीं कर सकता। सार्वजनिक पद पर बैठे व्यक्ति को भी जेल में रहने के बाद इस तरह के आदेश-निर्देश पत्र जारी करने की अनुमति नहीं होती।

लेकिन इसी बीच भाजपा ने अरविंद केजरीवाल से पांच सवाल कर उसके लिए स्थिति असहज कर दी है। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस कर आम आदमी पार्टी नेताओं से पूछा है कि दिल्ली की जनता मंत्री आतिशी से जानना चाहती है कि उन्होंने जो पत्र मुख्यमंत्री केजरीवाल का पत्र कह कर दिखाया वह उनके पास कहां से आया? किसने उन्हें वह पत्र दिया?

वरिष्ठ वकील आभा सिंह और अश्विनी उपाध्याय का मानना है कि विशेष परिस्थितियों में जेल में बंद व्यक्ति को पत्र लिखने या हस्ताक्षर करने की अनुमति दी जाती है, लेकिन इसके लिए अधिकारियों से पूर्वानुमति ली जाती है। इसके बारे में जेल अधिकारियों को पूरी सूचना दी जाती है। यदि अरविंद केजरीवाल ने बिना अनुमति के पत्र लिखे हैं, या उन पर हस्ताक्षर किये हैं तो इस मामले में उन पर नया मामला दर्ज किया जा सकता है।

‘ये फ्रॉड होगा’

वहीं, यदि किसी व्यक्ति ने बिना अरविंद केजरीवाल के हस्ताक्षर का पत्र उनका बताकर मीडिया में सार्वजनिक किया है, यह फ्रॉ़ड जैसे अपराध की श्रेणी में आता है और इस मामले में उचित धाराओं में केस दर्ज किया जा सकता है। हालांकि, इस मामले में असलियत में क्या हुआ है, इस पर जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

Check Also

योगी सरकार का बड़ा फैसला, प्रदेश में होगी 42 हजार होम गार्ड की भर्ती, सीएम ने दिए आदेश

लखनऊ:  सरकार की ओर से प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने के मुहिम के तहत …