Sunday, June 23, 2024 at 5:01 PM

आरोपी प्रज्ज्वल रेवन्ना को अदालत में किया गया पेश, कोर्ट ने 10 जून तक के लिए हिरासत में भेजा

कर्नाटक:  कर्नाटक का अश्लील वीडियो कांड इन दिनों विवादों में हैं। पूर्व सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना पर दुष्कर्म का आरोप है। उन्हें आज जनप्रतिनिधि अदालत में पेश किया गया। अदालत ने उनकी हिरासत अवधि को बढ़ा दिया है। प्रज्ज्वल अब 10 जून तक पुलिस की हिरासत में ही रहेंगे बता दें, प्रज्ज्वल को 31 मई को अदालत ने छह दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेजा गया था। उन्हें जांच दल ने कर्नाटक की विशेष अदालत में पेश किया था। न्यायमूर्ति केएन शिवकुमार ने मामले की सुनवाई की थी।

मीडिया ट्रायल न कराने का अनुरोध
31 मई को प्रज्ज्वल के वकील, अरुण ने कहा था कि प्रज्ज्वल जांच में सहयोग करने के लिए आगे आए हैं। मीडिया से उनका अनुरोध है कि उनका मीडिया ट्रायल न किया जाए। उन्हें होलेनरसीपुरा मामले में गिरफ्तार किया गया है।

प्रज्ज्वल के खिलाफ ब्ल कॉर्नर नोटिस जारी
प्रज्ज्वल के खिलाफ इंटरपोल ने ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया था। ब्लू कॉर्नर नोटिस अंतरराष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन की तरफ से जारी किया जाता है, जिसे इंटरपोल कहा जाता है। जानकारी के अनुसार, किसी अपराध के संबंध में किसी व्यक्ति की पहचान, स्थान सहित अन्य जानकारी एकत्र करने के लिए अंतरराष्ट्रीय पुलिस सहयोग निकाय ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी करता है। नोटिस के लिए जांच एजेंसी को इंटरपोल से अनुरोध करना पड़ता है। बता दें, इंटरपोल अलग-अलग तरह की कार्रवाई के लिए विभिन्न रंग के कॉर्नर नोटिस जारी करता है।

यह है मामला
बता दें कि 33 वर्ष के प्रज्ज्वल रेवन्ना के खिलाफ कई महिलाओं के साथ यौन शोषण के आरोप लगाए गए हैं और कई इससे जुड़े कई वीडियो वायरल हो गए हैं। रेवन्ना पर कथित तौर पर सैंकड़ों अश्लील वीडियो बनाने का भी आरोप है। राज्य सरकार ने इस मामले में एसआईटी का गठन किया है। प्रज्ज्वल कर्नाटक की हासन लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं, जहां 26 अप्रैल को मतदान हुआ है।

Check Also

पवन कल्याण को नहीं हरा पाए तो जगनमोहन की पार्टी के नेता ने बदला अपना नाम, चुनाव में ही किया था वादा

अमरावती: इस वर्ष लोकसभा और विधानसभा चुनाव के दौरान पक्ष विपक्ष के नेताओं ने कई दावे …