Monday, May 20, 2024 at 9:04 PM

61 कौशल गतिविधियां, 900 युवाओं की प्रतिस्पर्धा, सितंबर में फ्रांस में अंतरराष्ट्रीय मुकाबला

केंद्रीय कौशल विकास सचिव अतुल तिवारी ने कहा कि इंडिया स्किल्स सिर्फ एक प्रतियोगिता नहीं है। यह कौशल, नवाचार और दृढ़ संकल्प का उत्सव है। यह युवाओं की असीम क्षमता और भविष्य को आकार देने का मंच है। वह दिल्ली के यशोभूमि में इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता 2024 के उद्घाटन सत्र में युवाओं को संबोधित कर रहे थे।

दिल्ली में बुधवार से तीन दिवसीय इंडिया स्किल्स प्रतियोगिता 2024 शुरू हो गई। इसमें 30 राज्यों के 900 से अधिक उम्मीदवार 61 कौशल स्पर्धाओं में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। इसमें निर्माण और भवन प्रौद्योगिकी, रचनात्मक कला, फैशन सूचना-संचार प्रौद्योगिकी, विनिर्माण व इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी, परिवहन व रसद आदि शामिल हैं। तीन दिन तक चलने वाली इस प्रतियोगिता में 400 से अधिक उद्योग विशेषज्ञ भी शामिल हो रहे हैं। कार्यक्रम में कौशल विकास मंत्रालय के वरिष्ठ आर्थिक सलाहकार नीलांबुज शरण भी मौजूद रहे।

प्रतिभागियों को राष्ट्रीय स्तर पर क्रेडिट मिलेंगे
इंडिया स्किल्स के विजेता सर्वश्रेष्ठ उद्योग प्रशिक्षकों की मदद से अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए तैयारी करेंगे। वर्ल्ड स्किल्स प्रतियोगिता सितंबर में ल्योन ( फ्रांस )में होने वाली है। इसमें 70 से अधिक देशों के 1,500 प्रतिभागी एक मंच पर अपने कौशल का प्रदर्शन करेंगे। इस प्रतिभागियों को राष्ट्रीय स्तर पर क्रेडिट अर्जित करने का मौका मिलेगा।

2.50 लाख छात्रों ने किया पंजीकरण
स्किल इंडिया डिजिटल हब (एसआईडीएच) पोर्टल पर प्रतियोगिता के लिए लगभग 2.5 लाख उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया था। इसमें से 26000 को प्री-स्क्रीनिंग के माध्यम से शॉर्ट लिस्ट किया गया था। यह डेटा राज्य और जिला-स्तरीय प्रतियोगिता के आयोजन के लिए राज्यों के साथ साझा किया गया था। इसके आधार पर 900 से अधिक छात्रों को इंडिया स्किल्स नेशनल प्रतियोगिता के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया था।

Check Also

निकोबार द्वीपसमूह पहुंचा दक्षिण पश्चिम मानसून, जल्द केरल में देगा दस्तक

नई दिल्ली:  भारतीय अर्थव्यवस्था कृषि आधारित है और इसके लिए मानसून जीवनरेखा की तरह काम …