Monday, May 27, 2024 at 8:28 PM

रामपुर में लगातार बढ़े मतदाता, 3.76 से 17.31 लाख पहुंचा आंकड़ा, पहले सांसद बने थे अबुल कलाम आजाद

लोकसभा चुनाव के 72 साल के इतिहास में रामपुर सीट पर वोटरों की संख्या साल-दर-साल बढ़ती रही। इस सीट पर 1952 में हुए आजाद के बाद पहले लोकसभा चुनाव में 3.76 लाख वोटर थे, अब यहां वोटरों का आंकड़ा 17.31 लाख तक पहुंच गया है। 1952 के चुनाव से वर्तमान में 2024 लोकसभा चुनाव तक 13.55 लाख मतदाताओं का इजाफा हुआ है। रामपुर में 1952 में लोकसभा का चुनाव हुआ। पहली बार हुए लोकसभा चुनाव में 3,76,635 वोटरों ने लोकतंत्र के पर्व में हिस्सा लिया।

पहले चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी मौलाना अब्दुल कलाम आजाद ने सफलता पाई। उन्होंने अपने निकटतम प्रत्याशी को हराकर देश की सबसे बड़ी पंचायत का सफर ही नहीं तय किया, बल्कि केंद्र सरकार में पहले शिक्षा मंत्री भी बने। इसके बाद हुए चुनावों में वोटरों की संख्या लगातार बढ़ती चली गई। हालांकि 2009 लोकसभा चुनाव में 2,66,054 वोटर घट गए। 2014 के चुनाव में वोटरों की संख्या फिर बढ़ गई। 2014 में वोटरों की संख्या बढ़कर 16.16 लाख तक पहुंच गई।

इसके बाद वोटरों की संख्या बढ़ती चली गई। मौजूदा चुनाव में वोटरों की संख्या 17.31 लाख तक पहुंच गई है। अब जिले में 17.31 लाख वोटर अपने सांसद का चुनाव करेंगे।
किस चुनाव में कितने मतदाता

चुनाव वोटर विजेता
1952   3,76,635   मौलाना अबुल कलाम आजाद
1957   4,03,446   रजा सैयद मेहंदी
1962   4,21,922   रजा सैयद मेहंदी
1967    4,99,114   जुल्फिकार अली खां
1971   5,52,912   जुल्फिकार अली खां
1977   6,33,744   राजेंद्र शर्मा
1980   7,00,181   जुल्फिकार अली खां
1984   7,52,171   जुल्फिकार अली खां
1989   9,72,113   जुल्फिकार अली खां
1991   9,79,613   राजेंद्र शर्मा
1996   12,86,323   बेगम नूरबानो
1998   13,13,581   मुख्तार अब्बास नकवी
1999   13,22,470   बेगम नूरबानो
2004   14,20,598   जयाप्रदा
2009   11,54,544   जयाप्रदा
2014   16,16,984   डा.नैपाल सिंह
2019   16,58,551   आजम खां

Check Also

पहले जनता डरती थी, अब माफिया थर-थर कांपते हैं; पीएम मोदी ने सपा पर कसा तंज

मिर्जापुर:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बरकछा कलां में गठबंधन की मिर्जापुर और राबर्ट्सगंज …