Monday, April 22, 2024 at 12:20 PM

कल होगा पाकिस्तान के पंजाब के CM का चुनाव, पूर्व PM शरीफ की बेटी पर टिकी हैं सबकी निगाहें

पाकिस्तान के तीन बार के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज पंजाब प्रांत की पहली महिला मुख्यमंत्री बनेंगी। वह कल सीएम के रूप में निर्वाचित होने जा रही हैं। शरीफ के नेतृत्व वाली पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने पंजाब विधानसभा में स्पीकर और डिप्टी स्पीकर दोनों पद हासिल कर लिए हैं।

पंजाब विधानसभा के सचिव आमेर हबीब ने कहा, ‘पंजाब के मुख्यमंत्री का चुनाव सोमवार को होगा। उम्मीदवार रविवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल कर सकते हैं।’

पहली महिला मुख्यमंत्री बनना तय
चूंकि, पाकिस्तान के इतिहास में पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम का पहली महिला मुख्यमंत्री बनना तय माना जा रहा है क्योंकि उनकी पार्टी के पास अब पंजाब विधानसभा में दो-तिहाई बहुमत है। इसलिए पद को अपने नाम करने में कोई समस्या नहीं आएगी। बता दें, मुख्यमंत्री पद के लिए चुनाव पीएमएल-एन की मरियम नवाज और पीटीआई समर्थित सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल (एसआईसी) के उम्मीदवार राणा आफताब अहमद के बीच होगा।

इन लोगों ने जमाई अपनी गद्दी
पंजाब विधानसभा के मैराथन सत्र में शनिवार को विधायकों ने गुप्त मतदान के जरिए पीएमएल-एन नेता मलिक अहमद खान को सदन का संरक्षक और जहीर इकबाल चन्नार को उपमुख्यमंत्री चुना। मलिक अहमद खान शरीफ के वफादार हैं, जिन्होंने पीटीआई समर्थित सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल (एसआईसी) के उम्मीदवार मलिक अहमद खान बछार को हराया था। पीएमएल-एन के उम्मीदवारों को उनके सहयोगियों, पीपीपी, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-क्यू (पीएमएल-क्यू) और इत्तेहकम-ए-पाकिस्तान पार्टी (आईपीपी) का समर्थन भी मिला।

किस नेता को कितने वोट मिले
विधानसभा में डाले गए कुल 322 मतों में से मलिक अहमद खान को 224 मत मिले जबकि अहमद बछार को 96 मत मिले। दो वोट खारिज कर दिए गए। जहीर इकबाल को 220 वोट मिले और एसआईसी/पीटीआई के मोइन रियाज को 103 वोट मिले। सत्र के दौरान एसआईसी ने पीएमएल-एन पर उसके जनादेश को चुराने का आरोप लगाया।

Check Also

गूगल दफ्तर में कर्मचारियों का विरोध प्रदर्शन, इस्राइली सेना और सरकार के साथ सभी संबंध तोड़ने का दबाव

इस्राइल और हमास के बीच छिड़ी जंग का असर गूगल दफ्तर में भी दिखाई दिया। …