Tuesday, July 16, 2024 at 5:38 AM

टीएमसी नेता ने पैर खींचे और सहयोगी ने व्यक्ति को डंडे से पीटा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने साझा किया

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में हाल के दिनों में कई ऐसी घटनाएं हुई हैं, जहां लोगों को सार्वजनिक रूप से बेरहमी से पीटा गया। इसे लेकर राज्य की टीएमसी सरकार भी बैकफुट पर दिख रही है। अब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने एक ताजा वीडियो साझा किया है। इस वीडियो में टीएमसी का कद्दावर नेता जयंत सिंह और उसके कई सहयोगी एक व्यक्ति को बेरहमी से पीटते नजर आ रहे हैं। वीडियो में दिख रहा है कि जयंत सिंह और उसके सहयोगियों ने व्यक्ति के हाथ और पैर पकड़े हुए हैं, वहीं दो लोग जानवरों की तरह पीड़ित व्यक्ति को डंडों से पीट रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने साझा किया वीडियो
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने दावा किया है कि वीडियो में जिसे पीटा जा रहा है, वह एक महिला है। सुकांत मजूमदार ने सोशल मीडिया पर वीडियो को साझा करते हुए लिखा कि ‘कमरहाटी में तलतला क्लब से सामने आए एक वीडियो से मैं स्तब्ध हूं। इसमें टीएमसी विधायक मदन मित्रा का करीबी सहयोगी जयंत सिंह बेरमही से एक लड़की को पीटते नजर आ रहा है। यह वीभत्स घटना उस सरकार में हो रही है, जो खुद को महिला अधिकारों की चैंपियन बताती है।’ अमर उजाला इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि यह वीडियो मार्च 2021 का हो सकता है। फिलहाल इसकी जांच की जा रही है।

अरियादहा मामले में भी मुख्य आरोपी है जयंत
गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले भी अरियादहा मामले में भी टीएमसी नेता जयंत सिंह मुख्य आरोपी है। अरियादहा में एक कॉलेज छात्र सयांदीप पांजा और उसकी मां के साथ कथित तौर पर मारपीट की गई थी। इस मामले में जयंत सिंह आरोपी है और बीते दिनों जयंत ने आत्मसमर्पण कर दिया था। पुलिस ने अरियादहा मामले में जयंत सिंह के साथ ही नौ अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है।

अमित मालवीय ने भी लगाए गंभीर आरोप
भाजपा नेता और बंगाल के सह-पर्यवेक्षक अमित मालवीय ने भी इस वीडियो को सोशल मीडिया पर साझा किया है। इसके साथ मालवीय ने लिखा कि ‘चोपड़ा में ममता बनर्जी के लोगों द्वारा सार्वजनिक रूप से कोड़े मारकर न्याय करने की बंगाल की एकमात्र घटना नहीं थी। टीएमसी विधायक मदन मित्रा का सहयोगी जयंत सिंह और उसके सहयोगी नियमित रूप से महिलाओं को सार्वजनिक रूप से पीटते हैं।’

‘हाल ही में दमदम के कमरहाटी नगर पालिका के अरियादहा में एक महिला और उसकी बेटी को बुरी तरह पीटा गया। यह एक भयावह वीडियो है, जिसमें टीएमसी के लोग तलतला क्लब में अपनी इंसाफ सभा में एक असहाय लड़की के साथ क्रूरता कर रहे हैं। यह कोई सुदूर इलाका नहीं है बल्कि ग्रेटर कोलकाता का इलाका है। जो महिलाएं प्रस्तावों को ठुकरा देती हैं, उन्हें टीएमसी के लोगों द्वारा निशाना बनाया जाता है। ममता बनर्जी ही यह बता सकती हैं कि उनके विश्वासपात्र मदन मित्रा के लोग महिलाओं को इतनी बेरहमी से क्यों पीट रहे हैं। बंगाल में अराजकता, महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों और संवैधानिक ढांचे के पूर्ण पतन पर ध्यान देना चाहिए।’

Check Also

90 वर्षीय अर्थशास्त्री बोले- नोबेल के बिना जिंदगी बर्बाद नहीं होती; बची उम्र पढ़कर गुजार दूंगा

मुझे नहीं लगता कि नोबेल नहीं मिला होता तो मेरी जिंदगी बर्बाद होती। जिंदगी में …