Wednesday, May 29, 2024 at 11:33 AM

मेरे मुरादाबाद के पागलो…ठठरी बांध देंगे, कथा में चिरपरिचत अंदाज में आए नजर

मुरादाबाद के लोहिया एस्टेट में श्री राम बालाजी धाम बाबा नीब करौरी आश्रम ट्रस्ट और लोहिया मानव कल्याण ट्रस्ट की ओर से आयोजित चार दिवसीय श्री हनुमंत कथा एवं दिव्य दरबार चल रहा है। इसमें बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री कथा सुनाने पहुंचे हैं। उन्होंने कहा कि संसार के सात सुख हैं। पहला निरोगी काया, दूसरा ज्ञान प्राप्त हो जाना (ब्रह्म के बारे में जानना), मान-सम्मान पा लेना, धर्म-कर्म पर चलना, घर में माया, सुलक्षण नारी-सुत आज्ञाकारी और आनंद परमानंद ही सात सुख हैं।

इसके साथ ही भक्तमाल की कथा का भी वर्णन किया और कहा कि भाव दृढ़ होगा तो पत्थर में भी भगवान प्रकट हो जाएंगे। भगवान के साथ रहोगे तो मन भी भक्त बन जाएगा। उन्होंने नियमित हनुमान चालीसा का पाठ करने को प्रेरित किया। बाबा बागेश्वर धाम ने कहा कि यदि आपके पास समय की कमी है तो आप जय-जय जय हनुमान गोसाईं कृपा करो गुरुदेव की कृपा करो गुरुदेव की नाई चौपाई का पाठ करने से भी कल्याण हो जाएगा।

मेरे पागलों कहकर किया संबोधित
बाबा बागेश्वर धाम हनुमंत कथा में अपने चिरपरिचत अंदाज में नजर आए। जब-जब धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने ठठरी बांध देंगे कहा तो श्रद्धालुओं ने खूब ठहाके लगाए। वह बार-बार मुरादाबादवासियों को मेरे पागलों कहकर संबोधित कर रहे थे।

सनातन संवर्धन केंद्रों की स्थापना की दी जानकारी
बागेश्वर धाम सरकार के पदाधिकारियों ने जानकारी दी कि पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री देशभर में सनातन संवर्धन केंद्रों की स्थापना कर रहे हैं। यह ज्वाइंट भारत मुहिम के तहत हो रहा है। इसका उद्देश्य हिंदू राष्ट्र बनाने का आह्वान करना है। यह केंद्र संसाधनों पर निर्भर नहीं होंगे, बल्कि संकल्प और साधना पर आधारित होंगे। इसमें श्रद्धालुओं को 11 लोगों की टीम बनानी होगी।

प्रत्येक मंगलवार या शनिवार को निर्धारित स्थान पर बैठकर 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। 108 बार राम-राम का जाप करना है। हनुमान जी की आरती करनी है। सनातनी एक हों और भारत हिंदू राष्ट्र बने, इसका आह्वान करना है। इसकी जानकारी व्हाट्सएप के माध्यम से भी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जातिगत तनातनी छोड़कर सनातनी बनना होगा, सवा घंटा तुम्हारा और मजबूत धर्म हमारा होगा।

Check Also

धर्म बदल मुस्लिम युवती शिफा बनी संध्या, प्रेमी अनमोल संग रचाई शादी, नौकरी के बीच हुई दोस्ती

मुरादाबाद: प्यार के खातिर मजहब की दीवार को तोड़ते हुए अमरोहा की शिफा ने सनातन धर्म …