Monday, July 15, 2024 at 11:30 PM

जिस बार में गया था आरोपी उसके अवैध हिस्से को तोड़ा गया; जानें पूरा मामला

मुंबई:  मुंबई के बीएमडब्ल्यू हिट एंड रन मामले में हर दिन नई कार्रवाई हो रही है। आबकारी विभाग के बाद अब मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बड़ा कदम उठाया है। एक दिन पहले जहां जुहू स्थित वाइस ग्लोबल तापस बार को सील कर दिया था। वहीं अब इसके अवैध हिस्से को तोड़ा जा रहा है। बता दें, आरोपी मिहिर शाह दुर्घटना से पहले इसी बार में गया था।

बीएमसी ने यह फैसला दुर्घटना के बाद बार पर छापा मारने के बाद लिया है। गौरतलब है, मुंबई में वर्ली हिट-एंड-रन मामले के मुख्य आरोपी और शिवसेना नेता राजेश शाह के 24 साल के बेटे को मंगलवार शाम को गिरफ्तार कर लिया गया। वह तीन दिनों से लापता था।

नगर निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि बीएमसी के के-वेस्ट वार्ड कार्यालय की टीम आज सुबह वाइस ग्लोबल तापस बार पहुंची और उसके अवैध हिस्से को तोड़ना शुरू कर दिया। इससे पहले विभाग ने यह पता लगाने के लिए बार का निरीक्षण किया था कि कोई अनधिकृत बदलाव तो नहीं किए गए।

सौंपा गया था नोटिस
उन्होंने कहा कि बार को तोड़ने की प्रक्रिया शुरू करने से पहले उसे नोटिस दिया गया था। इससे पहले, आबकारी विभाग ने जुहू स्थित वाइस ग्लोबल तापस बार को सील कर दिया था।

पुलिस की जांच में खुलासा
आपको बता दें कि तेज रफ्तार बीएमडब्ल्यू कार ने मुंबई के वर्ली इलाके में कावेरी नखवा नामक महिला को कुचल दिया था। कार ने महिला को करीब दो किलोमीटर तक घसीटा था। इस हादसे में उनके पति प्रदीप नखवा भी घायल हो गए थे। दुर्घटना के बाद, मिहिर दो दिनों से अधिक समय तक लापता था। वह उसी बीएमडब्ल्यू कार से बांद्रा के कला नगर इलाके में गया था।

यह है पूरा मामला
पुलिस ने मिहिर के ड्राइवर राजरिशी बिदावत को भी गिरफ्तार कर लिया था, जो कार में सवारी के दौरान उसके साथ था। बाद में, मिहिर ने अपने पिता राजेश शाह को फोन किया और घटना के बारे में बताया। इसके बाद, राजेश ने अपने बेटे को शहर छोड़ने को कहा और उससे कहा कि राजरिशी दुर्घटना की जिम्मेदारी ले लेगा। अपने पिता से बातचीत के बाद मिहिर इधर-उधर छिपने लगा।

इस पूरे हादसे पहले, शनिवार रात मिहिर शाह और उसके दोस्त बार गए थे। आबकारी विभाग के एक अधिकारी ने पहले बताया था कि बार के कर्मचारियों ने मिहिर को शराब दी थी।

Check Also

90 वर्षीय अर्थशास्त्री बोले- नोबेल के बिना जिंदगी बर्बाद नहीं होती; बची उम्र पढ़कर गुजार दूंगा

मुझे नहीं लगता कि नोबेल नहीं मिला होता तो मेरी जिंदगी बर्बाद होती। जिंदगी में …