Monday, June 24, 2024 at 12:20 AM

राजीव चंद्रशेखर ने तिरुवनंतपुरम की अर्थव्यवस्था को बताया दिवालिया, थरूर ने दी बुद्धिमान बनने की नसीहत

तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट पर कांग्रेस और भाजपा के बीच में कड़ी टक्कर है। यहां आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। जहां भाजपा ने केरल की अर्थव्यवस्था को लेकर मौजूदा सरकार को घेरा। वहीं कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भाजपा के राजीव चंद्रशेखर को बुद्धिमान बनने की नसीहत दे डाली। बता दें, कांग्रेस की ओर से तिरुवनंतपुरम से उम्मीदवार शशि थरूर हैं, जबकि भाजपा ने यहां से राजीव चंद्रशेखर को चुनावी मैदान में उतारा है।

पीएम मोदी की वजह से हर राज्य को 1100 फीसदी पीने का पानी मिला
केंद्रीय मंत्री और तिरुवनंतपुरम से भाजपा उम्मीदवार राजीव चंद्रशेखर ने कहा, ‘विशेष रूप से तिरुवनंतपुरम और सामान्य रूप से केरल आज एक दिवालिया अर्थव्यवस्था है जहां लोग समय पर मूल पेंशन और वेतन प्राप्त करने में असमर्थ हैं। लोगों के पास घर और पीने का पानी नहीं है। पीएम मोदी की वजह से हर राज्य को 100 फीसदी या करीब 100 फीसदी पीने का पानी मिला है। केरल उन कुछ राज्यों में से एक है, जहां 50 प्रतिशत ही पीने के पानी का पहुंच पा रहा है। पिनराई विजयन सरकार उनकी तुलना में पानी मुहैया कराने में सक्षम नहीं हैं।’

पिछले 15 वर्षों में शायद ही त्रिवेंद्रम आए होंगे
कांग्रेस नेता और तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से उम्मीदवार शशि थरूर ने कहा, ‘एक सांसद जो कुछ भी कर सकता है, मैंने उससे ज्यादा किया है। मैंने ऐसे काम किए हैं जो कोई सांसद नहीं कर पाया है, जैसे कि यूएई वाणिज्य दूतावास को यहां लाने के लिए अपने अंतरराष्ट्रीय प्रभाव का उपयोग करना। मैं टेक्नोपार्क में उन कंपनियों को आकर्षित करने में सक्षम हूं जो पहले टेक्नोपार्क में काम नहीं कर रही थीं। मैंने कई चीजें की हैं और मुझे अपने रिकॉर्ड पर गर्व है। 66 पृष्ठों की एक रिपोर्ट है जिसे मैंने मलयालम और अंग्रेजी में लोगों के समक्ष रखा है। दुर्भाग्य से, सज्जन (राजीव चंद्रशेखर) के पास स्पष्ट रूप से इसे पढ़ने का धैर्य या ज्ञान नहीं है और वह पिछले 15 वर्षों में शायद ही त्रिवेंद्रम आए होंगे। मैं उनकी अज्ञानता के लिए उन्हें दोष नहीं दे सकता, लेकिन बुद्धिमान बनो।

Check Also

योगी सरकार का बड़ा फैसला, प्रदेश में होगी 42 हजार होम गार्ड की भर्ती, सीएम ने दिए आदेश

लखनऊ:  सरकार की ओर से प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने के मुहिम के तहत …