Tuesday, February 27, 2024 at 6:39 PM

संगीतकार इलैयाराजा की बेटी भवतारिणी का निधन, गायिका ने 47 वर्ष की आयु में ली अंतिम सांस

महान संगीतकार इलैयाराजा की बेटी भवतारिणी का 25 जनवरी को निधन हो गया। उन्होंने 47 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। वे लंबी बीमारी से जूझ रही थीं और श्रीलंका में उनका इलाज चल रहा था। अभिनेत्री और गायिका भवतारिणी के निधन से इंडस्ट्री में गम का माहौल है। तमाम सितारे उनके निधन पर शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। 47 साल की उम्र में वे फिल्म उद्योग में एक प्रमुख हस्ती थीं, जिन्होंने 30 से अधिक फिल्मों में कई लोकप्रिय गीतों में अपनी आवाज दी। उनकी असामयिक मृत्यु से पूरे मनोरंजन जगत में शोक की लहर दौड़ गई है।

श्रीलंका में चल रहा था इलाज
रिपोर्ट्स के अनुसार, भवतारिणी ने इलाज के लिए भारत से श्रीलंका की यात्रा की थी। पांच महीने तक आयुर्वेदिक उपचार लेने के बावजूद उनके स्वास्थ्य में सुधार नहीं हुआ और दुख की बात है कि बीते गुरुवार को शाम 5:20 बजे उनका निधन हो गया। उनका पार्थिव शरीर कल चेन्नई ले जाया जाएगा।

गायिका ने जीता था यह पुरस्कार
एक बहुमुखी कलाकार के रूप में उन्होंने एक अभिनेत्री, पार्श्व गायिका और संगीतकार के रूप में सम्माननीय प्रदर्शन किया। इलैयाराजा की बेटी होने के नाते उन्होंने अपने पिता और भाइयों के साथ विभिन्न फिल्म संगीत परियोजनाओं में सहयोग किया। अपने परिवार के संगीत प्रयासों में महत्वपूर्ण भूमिका के बावजूद उनकी आवाज विशिष्ट रूप से विशिष्ट बनी रही। भारती की फिल्म के एक गाने में उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ महिला पार्श्व गायिका का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला, जिसमें उन्होंने इलैयाराजा के साथ गाना गाया था।

भवतारिणी का करियर
फिल्म ‘रसैय्या’ में पार्श्व गायिका के रूप में अपनी शुरुआत करते हुए उन्हें पहचान मिली, क्योंकि फिल्म का गाना जबर्दस्त हिट हुआ। उन्होंने अपने पिता और भाइयों द्वारा बनाई गई संगीत रचनाओं में अपनी आवाज देना जारी रखा और उन्होंने देवा और सिरपी जैसे कलाकारों के साथ भी काम किया।

Check Also

‘रंग दे बसंती’ की कहानी पढ़ रो पड़े थे शाहिद कपूर, अभिनेता ने फिल्म ठुकराने की बताई वजह

बॉलीवुड के टॉप एक्टर में शुमार शाहिद कपूर आज 43 साल के हो गए हैं। …