Tuesday, July 5, 2022 at 9:16 PM

अंतराष्ट्रीय मार्किट में हुआ भारत का बड़ा नुकसान, तुर्की के बाद इजिप्ट ने ठुकराया 55 हजार टन गेहूं

मिस्र के संयंत्र संगरोध प्रमुख अहमद अल-अत्तर ने शनिवार को कहा कि मिस्र ने मूल रूप से तुर्की के लिए 55,000 टन भारतीय गेहूं ले जाने वाले जहाज के प्रवेश पर रोक लगा दी थी, क्योंकि यह संगरोध आवश्यकताओं को पूरा नहीं करता था।इसके बाद इसे इजिप्ट भेजा गया तो वहां भी गेहूं लदे जहाज को तट पर पहुंचने की इजाजत नहीं दी गई।

इजिप्ट के प्लांट क्वारंटीन चीफ अहमद अल अत्तर ने 55,000 टन गेहूं को लेकर आ रहे जहाज को देश की सीमा में प्रवेश करने से पहले ही खारिज कर दिया।अल-अत्तर ने कहा, “मिस्र में प्रवेश करने से पहले हमने जहाज को खारिज कर दिया था,” यह कहते हुए कि तुर्की के संगरोध अधिकारियों ने पहले ही जहाज के आगमन को रोक दिया था।

भारत की सरकार ने पुष्टि की कि वह अभी भी मिस्र को सीमा शुल्क निकासी और निर्यात की प्रतीक्षा कर रहे शिपमेंट की अनुमति देगी।मोसेल्ही ने पहले कहा था कि भारतीय प्रतिबंध मिस्र के साथ सरकारी समझौते पर लागू नहीं होगा।

Check Also

आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान पर पड़ी बारिश की मार, दक्षिण पश्चिम में 6 लोगों की मौत

दक्षिण-पश्चिमी पाकिस्तान और देश के अन्य हिस्सों में भारी बारिश के कारण मकानों की छत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *