Monday, May 27, 2024 at 8:46 PM

पूर्व PM गिलानी बने सीनेट के अध्यक्ष, PML-N के नासिर को मिला उपसभापति का पद

जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के सांसदों के विरोध के बीच पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी को मंगलवार को सीनेट का निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया। वहीं, सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के सैदल खान नासिर को उपसभापति चुना गया। पीएमएल-एन के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ गठबंधन द्वारा समर्थित दो उम्मीदवारों के खिलाफ किसी ने नामांकन पत्र दाखिल नहीं किया था।

पीटीआई सांसद कर रहे विरोध
गौरतलब है, सीनेट की बैठक पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के सांसदों के विरोध के बीच हुई है। दरअसल, पीटीआई सांसद मांग कर रहे थे कि सत्र को खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के सीनेटरों के चुनाव तक स्थगित किया जाना चाहिए। बता दें, खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के सीनेटरों के चुनाव दो अप्रैल को होने थे, लेकिन आरक्षित सीटों पर निर्वाचित सदस्यों की शपथ पर हुए विवाद होने के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था।

11 सीटों पर सीनेट चुनाव में देरी हुई
इस महीने की शुरुआत में इस्लामाबाद, पंजाब और सिंध में चुनाव हुए थे। हालांकि पीटीआई शासित खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में चुनाव नहीं हुआ था, जहां प्रांतीय असेंबली अध्यक्ष बाबर सलीम स्वाति के आरक्षित सीटों पर विपक्षी सांसदों को शपथ दिलाने से इनकार करने के कारण 11 सीटों पर सीनेट चुनाव में देरी हुई।

41 नवनिर्वाचित सीनेटरों को शपथ दिलाई गई
पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने पीटीआई और सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल (एसआईसी) की इन सीटों के आवंटन की मांग को खारिज कर दिया था, जिसके बाद ये सीटें पीपीपी, पीएमएल-एन और अन्य दलों को आवंटित की गई थीं। सत्र शुरू होने के बाद 41 नवनिर्वाचित सीनेटरों को शपथ दिलाई गई। सीनेट में कुल 96 सदस्य हैं, लेकिन वर्तमान में केवल 85 सीनेटर ही इसके सदस्य हैं क्योंकि खैबर पख्तूनख्वा से 11 सीनेटरों के लिए चुनाव अभी बाकी हैं।

Check Also

पर्यटक की घड़ी खोई तो भारतीय लड़के ने लौटाई, पुलिस ने ईमानदारी के लिए प्रमाण-पत्र देकर किया सम्मानित

दुबई की पर्यटक पुलिस ने एक भारतीय लड़के को सम्मानित किया। उसने एक घड़ी लौटाई …