Thursday, May 30, 2024 at 6:56 AM

‘अगर उनके प्रांतों का…’, अरुणाचल के इलाकों के नाम बदलने पर चीन को रक्षा मंत्री का जवाब

लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे है, वैसे-वैसे राजनीतिक दलों की धड़कने तेज हो रही है। सत्तारूढ़ दल से लेकर विपक्षी दल तक सभी ताबड़तोड़ रैलियों के जरिए मतदाताओं को रिझाने में लगे हुए हैं। इस बीच, अरुणाचल प्रदेश के नामसाई में मंगलवार को एक चुनावी रैली को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधित किया। इस दौरान वह भारत-चीन के बीच विवादों पर खुलकर बोलते हुए नजर आए।

इससे कोई फर्क पड़ने वाला नहीं- राजनाथ सिंह
हाल ही में चीन द्वारा अरुणाचल प्रदेश के कई इलाकों को नाम बदले गए थे। जिस पर भारत ने कड़ी आपत्ति दर्ज की थी, हालांकि विदेश मंत्रालय ने कहा था कि देशों को भारत के आतंरिक मामले में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। नामसाई में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश के तकरीबन 30 स्थानों के नाम बदले और अपनी वेबसाइट पर अपलोड किया। मैं अपने पड़ोसी देश को बताना चाहता हूं कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है।

आज के भारत के पास जवाब देने की ताकत- राजनाथ सिंह
चुनावी रैली में चीन की करतूत पर दो टूक जवाब देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर भारत चीन के कुछ जगहों और कुछ प्रांतों के नाम बदल दें तो क्या वो भारत का हिस्सा बन जाएंगे। उन्होंने कहा कि भारत अपने पड़ोसियों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखना चाहता है। बावजूद इसके, अगर कोई हमारे सम्मान को ठेस पहुंचाने की कोशिश करता है तो आज के भारत में जवाब देने की ताकत है।

Check Also

‘सिल्क रूट की तरह गेम चेंजर होगा भारत-मध्य पूर्व-यूरोप आर्थिक गलियारा’, प्रधानमंत्री मोदी बोले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत-मध्य पूर्व-यूरोप आर्थिक गलियारा (आईएमईसी) रेशम मार्ग (सिल्क रूट) …