Sunday, June 23, 2024 at 5:46 PM

23 दिन बाद कब्र से निकाला किशोरी का शव, सिपाही समेत चार पर मुकदमा

पीलीभीत: पीलीभीत में पुलिस अधीक्षक के आदेश पर थाना जहानाबाद क्षेत्र की निवासी किशोरी की मौत के मामले में सिपाही समेत चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। डीएम के आदेश पर 23 दिन बाद सोमवार को किशोरी का शव कब्र से निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। आरोपी सिपाही इस समय मुरादाबाद में तैनात है।

थाना जहानाबाद क्षेत्र के ग्राम अमखिड़िया निवासी जाकिरा पत्नी इकबाल अहमद ने थाना जहानाबाद में रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसमें कहा गया कि वह पति के साथ नेपाल में भट्ठे पर काम करती है। उसकी 16 वर्षीय पुत्री शीरी अपने दादा-दादी के साथ गांव में ही रहती थी। शीरी के पास एक मोबाइल भी था। इस मोबाइल से उसकी सहेलियां भी बातचीत करती थीं।

जाकिरा का कहना है कि शीरी के मोबाइल से उसकी एक सहेली अपने प्रेमी से भी बात करती थी। इसका मध्यस्थ गांव का ही युवक साहिम था। शीरी की इस सहेली का प्रेमी पुलिस में सिपाही है। वह वर्तमान में मुरादाबाद जनपद में तैनात है जबकि कुछ समय पूर्व वह थाना जहानाबाद की परेवा वैश्य चौकी पर ही तैनात था।

फोन में मिले सिपाही और युवती के आपत्तिजनक फोटो
जाकिरा का आरोप है कि बीती 13 अप्रैल की रात को साहिम ने सिपाही राजकुमार और सहेलियों की मदद से शीरी की हत्या कर दी। इतना ही नहीं शीरी के दादा-दादी को बरगलाकर शव को भी दफन करवा दिया। जाकिरा का कहना है कि जब कुछ दिन बाद उन्होंने शीरी का खराब मोबाइल सही कराया तो उसे सिपाही राजकुमार और उक्त सहेली के आपत्तिजनक फोटो और वीडियो मिले।

जब उसके देवर अफसार ने सिपाही से इसकी शिकायत की तो उसने उसके साथ गाली-गलौज करते हुए उसकी भतीजी की तरह ही जान से मरवा देने की धमकी दी। इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक से की गई। उनके आदेश के बाद पुलिस ने तहरीर के आधार पर सिपाही राजकुमार, साहिम और शीरी की दो सहेलियों के खिलाफ हत्या और साक्ष्य छिपाने समेत कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

डीएम के आदेश पर कब्र से निकाला गया शव
मुकदमा दर्ज होने के बाद डीएम के आदेश पर नायब तहसीलदार प्रखर सिंह, प्रभारी निरीक्षक जहानाबाद मुकेश शुक्ला, इंस्पेक्टर क्राइम गजेंद्र सिंह, परेवा वैश्य चौकी प्रभारी गौतम सिंह सोमवार दोपहर तीन बजे ग्राम अमखिड़िया स्थित कब्रिस्तान पर पहुंचे और कब्र को खोदवाकर किशोरी का शव बाहर निकलवाया। इसके बाद मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।

Check Also

पुलिस ने 40 लाख की कीमत के 201 मोबाइल किए बरामद, खोए फोन मिले तो लोगों के चेहरे खिले

मुरादाबाद पुलिस की सर्विलांस सेल ने खोए हुए 201 मोबाइल बरामद कर उनके मालिकों को …