Monday, June 24, 2024 at 9:53 AM

हल्की बारिश से मिली राहत, आंधी ने बरपाया कहर; 30 पोल और 100 से अधिक पेड़ गिरे… महिला की मौत

मथुरा:  तीर्थनगरी मथुरा में बुधवार की शाम मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। विभिन्न इलाकों में तेज आंधी के साथ हल्की बारिश हुई। बारिश से जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली। वहीं आंधी से काफी नुकसान भी हुआ। पेड़ टूटकर गिरने से उसके नीचे दबकर महिला की मौत हो गई।

अनेक स्थानों पर टिन शेड, बिजली के करीब 30 पोल और 100 से अधिक पेड़ गिर गए। इससे कई मार्ग पर जाम की स्थिति बनी रही। दोपहर करीब दो बजे अचानक बादल छा गए। देखते ही देखते तेज आंधी चलने लगी। कुछ ही देर में बारिश होने लगी। इससे लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली।

कोसीकलां क्षेत्र के शालीमार रोड पर शिव विहार कालोनी निवासी सुशीला (35) बच्चों को निकाल रही थीं। इसी समय घर के पास फैक्टरी में लगा यूकेलिप्टस का पेड़ टूटकर गिर गया। पेड़ की नीचे उसकी गर्दन दब गई। इससे उसकी मौत हो गई। घटना से घर में चीख पुकार मच गई। कालोनीवासियों ने कहा कि पेड़ कटवाने के लिए कई बार फैक्टरी प्रबंधन से कहा गया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

इसके अलावा नंदगांव रोड स्थित 33 केवीए बिजलीघर के 10 एमवीए ट्रांसफॉर्मर पर एक पेड़ गिर गया। हरीपुरा 33 केवीए बिजलीघर पर केबिल बाक्स में धमाका हो गया। इससे कोसी एंव आसपास के क्षेत्रों की बिजली की सप्लाई ठप हो गई। नरसी विलेज में दो पोल गिर गए। वहीं शालीमार रोड पर तीन पोल, रामनगर में महावीर बगीची में दो पोल, नंदगांव रोड पर डिग्री कॉलेज के समीप एक पोल, शक्ति नगर में एक पोल समेत कई स्थानों पर पोल टूट गए। इससे पूरे नगर और ग्रामीण क्षेत्र की आपूर्ति ठप हो गई।

वहीं महाराजा अग्रसेन मार्ग पर यूकेलिप्टस के तीन, गोपाल बाग पर 8-10 पेड़ समेत कई स्थानों पर पेड़ गिर गए। इससे सड़कों पर जाम के हालत पैदा हो गए। चेयरमैन धर्मवीर अग्रवाल ने जेसीबी के माध्यम से पेड़ों को हटवाकर रास्ता साफ कराया। इससे आगवामन सामान्य हो सका।

Check Also

वंदे भारत एक्सप्रेस से मवेशी टकराया, प्रेशर पाइप में तकनीकी खामी आने से 50 मिनट रुकी ट्रेन

इटावा:  कानपुर से दिल्ली की तरफ जा रही वंदे भारत एक्सप्रेस के इंजन से मवेशी …