Wednesday, December 7, 2022 at 8:08 AM

Online Shoping करने वालों को नहीं मिलेगा डिस्काउंट और कैशबैक, जानें वजह

बिजनेस डेस्क। अगर आप भी घरेलू और पर्सनल यूज की छोटी-छोटी चीजों के लिए ऑनलाइन शॉपिंग पर निर्भर रहते हैं तो देश में यह कारोबार पूरी तरह बदलने जा रहा है। सरकार की तरफ से लागू किए जाने वाले नए नियमों के बाद फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर एक्सक्लूसिव डील, कैशबैक और बंपर डिस्काउंट जैसे ऑफर खत्म हो जाएंगे। सरकार ने प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) वाली ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए नियमों को सख्त कर दिया है।

छोटे कारोबारियों का गुस्सा शांत करने की कोशिश

नए नियम के अनुसार ई-कॉमर्स कंपनियां उन कंपनियों के प्रोडक्ट नहीं बेच पाएंगी जिनमें इनकी हिस्सेदारी है। सरकार ने ऑनलाइन बाजार का परिचालन करने वाले कंपनियों पर उत्पादों की कीमत प्रभावित कर सकने वाले अनुबंधों की रोक लगा दी है। इससे वे किसी इकाई के साथ उसके किसी प्रोडक्ट को केवल व केवल अपने प्लेटफॉर्म पर बेचने का अनुबंध नहीं कर सकेंगी।

सरकार के इस फैसले से ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ ही ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले ग्राहकों को झटका लगा है। हालांकि सरकार ने अपने इस कदम से घरेलू कारोबारियों का गुस्सा शांत करने की कोशिश की है। छोटी कारोबारी हमेशा इन कंपनियों के काम करने के तरीके की शिकायत करते रहते थे।

1 फरवरी 2019 से लागू होगा नया नियम

मिनिस्ट्री ऑफ कॉमर्स ने ऑनलाइन रिटेल बिजनेस में FDI के बारे में संशोधित नीति में कहा कि इन कंपनियों को अपने सभी वेंडरों को बिना भेदभाव किए समान सेवाएं एवं सुविधाएं उपलब्ध करानी होंगी।

मंत्रालय ने कहा संशोधित प्रवधान का लक्ष्य घरेलू कंपनियों को उन ई-कंपनियों से बचाना है जिनके पास FDI के जरिये बड़ी पूंजी उपलब्ध है। संशोधित नीति 1 फरवरी 2019 से प्रभावी होगी।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘इस कदम से ई-कॉमर्स कंपनियों द्वारा कीमतों को प्रभावित करने पर पूरी तरह से लगाम लगेगी। इससे ई-कॉमर्स कंपनियों के मामले में FDI दिशानिर्देशों का बेहतर क्रियान्वयन भी सुनिश्चित होगा।’

Check Also

पेट्रोल-डीजल के दाम में आज दिखा बड़ा बदलाव, फटाफट चेक करें रेट

ग्‍लोबल मार्केट में कच्‍चे तेल की कीमतों में लगातार दूसरे दिन उछाल दिखा,  असर आज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *