Wednesday, December 7, 2022 at 10:00 AM

Health Tips: जानें हरी और लाल मिर्च मे कौन सी है ज्यादा फायदेमंद

हेल्थ डेस्क . हरी मिर्च को यदि आपने बीज सहित खाया तो यह बहुत फायदा करेगी, क्योंकि बीजों में विटामिन C नारंगी के मुकाबले आठ गुना अधिक रहता है। यह सलाइवा के लिए बहुत अच्छी रहती है। मिर्च में एक एंजाइम एमिलेस रहता है। एमिलेस ही वह एंजाइम है जो हमारे कार्ब्स को ब्रेक करने का काम करता है। यह सलाइवा से ही मिलता है, जो हरी मिर्च दे सकती है। पहले लोग जितनी बार भोजन करते थे, कच्ची हरी मिर्च का सेवन करते थे। इससे वे कई तरह की बीमारियों से बचे रहते हैं, जैसे कैंसर, दिल के रोग आदि। लाल मिर्च की तुलना में हरी मिर्च ज्यादा फायदेमंद है। खूब चटपटा खा रहे हैं तो उसके साथ यदि कच्ची हरी मिर्च खाएंगे तो स्वस्थ रहेंगे। लेकिन जैसे ही हरी मिर्च सूखने के बाद लाल होती है, यह पोषण खोने लगती है।

क्या करती है हरी मिर्च?

यह डायबिटीज को काबू में रखेगी, यानी शुगर का स्तर संतुलित रखेगी।
जीरो कैलोरी डाइट में यह लाभ देगी। इसमें न के बराबर कैलारी होती हैं।
एनिमिया होने की स्थिति में यह आयरन देती है।
इसके खाने से बनने वाला एंडॉर्फिन हॉर्मोन डिप्रेशन खत्म करेगा।
मिर्च शरीर को फ्री रेडिकल्स से बचाती है, जो एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरी हुई होती है। इससे कैंसर का खतरा कम हो जाता है।
धुएं में काम करने वाले लोग या धूम्रपान की लत में यह फेफड़े के कैंसर के खतरे को खत्म करती है।
त्वचा के इंफेक्शन में यह एंटीबैक्टीरियल तत्व शरीर को देती है, खासतौर पर विटामिन ई मिलता है।
लगातार खांसी और सर्दी रहने पर यह रोग प्रतिरोधक का काम करती है। विटामिन सी होने से कफ निकाल देती है।

हरी मिर्च में पाए जाने वाले तत्व

हरी मिर्च विटामिन k का अच्छा स्रोत होता है। इसलिए इसे खाने से ऑस्टियोपोरोसिस की संभावना कम होती है। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण कई प्रकार के संक्रमण से हमे दूर रखते हैं। इसमे एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

क्या करती है लाल मिर्च

इसमें आयरन की मात्रा अधिक होती है, जो रक्त के लिए अच्छी है। साथ ही इसमें विटामिन C होने पर यह शरीर को अन्य आहार से आयरन एब्जॉर्ब करने देती है।
कैलोरी को जलाने में यह कारगर है। इसमें मौजूउ कैप्सासिन नाम का तत्व कैलारी जलाने से तो रोकता ही है साथ ही बार बार भूख लगने की समस्या से भी निजात दिलाता है ।
गले में संक्रमण होने की स्थिति में यह वहां से कफ को साफ कर श्वास को बेहतर करती है। तोते की आवाज सुनी होगी इसके सेवन से वाणी में स्पष्टता आती है।
नियमित सेवन करने पर आर्टरीज़ में से ब्लॉकेज खत्म करने का काम करती है।

लाल मिर्च में पाए जाने वाले तत्व

अमीनो एसिड, एस्कार्बिक एसिड, फोलिक एसिड, सिट्रिक एसिड, मैलिक एसिड, मैलोनिक एसिड आद‍ि।

बेहतर है हरी मिर्च…क्योंकि

इसमें पानी की मात्रा होती है और कैलोरी नहीं होती है और इसलिए इसे कच्चा भी खा सकते हैं। कच्चा खाना ही ज्यादा लाभदायक होता है।
हरी मिर्च में बिटा कैरोटिन, एंटीऑक्सीडेंट्स और एंडॉर्फिन्स होता है। जो कई बीमारियों से हमें बचाता है।
हरी मिर्च के सेवन से बढ़ती आयु की प्रक्रिया धीमी पड़ जाती है, त्वचा में चमक रहती है। जो लोग हरी मिर्च का सेवन अधिक करते हैं, वे उन लोगों की तुलना में ज्यादा युवा दिखते हैं, जो हरी मिर्च का सेवन नहीं करते हैं।
लाल मिर्च से पेप्टिक अल्सर होने की आशंका अधिक रहती है।

Check Also

सर्दी खांसी की समस्या होने पर हाइड्रेट रहना हैं आपके लिए बेहद जरुरी

ठंड का सीजन आ चुका है, ऐसे में इस सीजन में जहां मीठी धूप के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *