Monday, February 26, 2024 at 11:03 PM

‘ईरान-भारत संबंध की मिसाल है चाबहार गोल्डन गेटवे’; राजदूत इराज इलाही द्विपक्षीय संबंध पर बोले

चाबहार बंदरगाह का ‘गोल्डन गेटवे’ के रूप में विकास किया जा रहा है। ईरान के राजदूत इराज इलाही ने कहा, चाबहार से जुड़े तमाम विकास भारत और ईरान के संबंधों का अहम उदाहरण हैं। उन्होंने कहा कि महत्वाकांक्षी अंतरराष्ट्रीय उत्तर-दक्षिण परिवहन कॉरिडोर (आईएनएसटीसी) का कार्यान्वयन दोनों देशों के मजबूत होते द्विपक्षीय संबंधों का महत्वपूर्ण उदाहरण है।

ईरान की 45वीं वर्षगांठ पर एक कार्यक्रम में राजदूत इलाही ने कहा, पिछले अगस्त में जोहान्सबर्ग में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच ‘सौहार्दपूर्ण बैठक’ हुई थी। उन्होंने कहा कि दोनों शीर्ष नेताओं की बैठक के बाद ‘गोल्डन गेटवे’ के रूप में चाबहार बंदरगाह के विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ। उन्होंने इसे दोनों देशों के बीच ‘अच्छे सहयोग’ की दिशा में एक ‘नया चरण’ करार दिया।

Check Also

क्या है याकूजा, जिसके सरगना ने करवाई परमाणु सामग्री की तस्करी, जापान में यह कैसे बना जुर्म का पर्याय?

जापान का कुख्यात माफिया गैंग ‘याकूजा’ एक बार चर्चा में है। दरअसल, बुधवार को याकूजा …