Tuesday, November 29, 2022 at 4:27 AM

2019 शुरु होने से पहले जरूर निपटा लें ये 4 काम, नहीं तो आएगी दिक्कत

New Delhi. यह साल खत्म होने में सिर्फ पांच दिन शेष रह गए हैं। इसके बाद 2019 की शुरुआत हो जाएगी। नए साल में जश्न मनाने को लेकर आपकी तैयारी शुरू भी हो गई होगी। लेकिन क्या आपने 31 दिसंबर से पहले कुछ लंबित वित्तीय जिम्मेदारियों को पूरा कर लिया है। अगर नहीं किया है तो अब देर मत कीजिए। आपके कई काम ऐसे हैं जो रुक या बंद हो सकते हैं। इसका खामियाजा आपको नए साल में भुगतना पड़ सकता है। हम आपको उन कुछ काम के बारे में बता रहे हैं जिसे 31 दिसंबर से पहले निपटा लेना अच्छा होगा।

आयकर रिटर्न नहीं भरें तो जल्दी करें

अगर आपने अपना आयकर रिटर्न अंतिम तिथि तक नहीं फाइल किया है तो भारी जुर्माने से बचने के लिए 31 दिसंबर के पहले जरूर भरें। इसके बाद भरने पर आपको भारी पेनाल्टी देनी पड़ सकती है। आयकर विभाग के नए नियम के मुताबिक, जो करदाता तय तारीख के बाद अपने रिटर्न भरेंगे, उन्हें ज्यादा जुर्माना चुकाना होगा। फिलहाल 31 दिसंबर तक देरी से आईटीआर भरने के लिए 5,000 रुपये का दंड लगता है, लेकिन 1 जनवरी 2019 से 31 मार्च 2019 के दौरान यह पेनाल्टी 10,000 रुपये हो जाएगा।

डेबिट-क्रेडिट कार्ड ब्लॉक होने से रोके

रिजर्व बैंक के निर्देश के मुताबिक, सभी बैंकों को अपने मैग्स्ट्रिप (मैग्नेटिक स्ट्रिव यानी काली पट्टी) वाले डेबिट और क्रेडिट कार्ड को ईएमवी आधारित चिप कार्ड में 31 दिसंबर 2018 तक बदलना है। इस तारीख के बाद सभी मैग्स्ट्रिप कार्ड्स को ब्लॉक कर दिया जाएगा। अगर आपके पास काली पट्टी वाले डेबिट या क्रेडिट कार्ड है और आपने अभी तक उसे ईएमवी में नहीं बदला है तो देर मत कीजिए। आप अपने बैंक की शाखा में जाकर या ऑनलाइन आवेदन देकर कार्ड को जल्द से जल्द बदलें।

सीटीएस चेक ही काम करेगी

पुरानी चेक बुक बदलने को लेकर तीन महीने पहले से ही आरबीआई ने बैंकों को निर्देश दिया था और अंतिम तारीख 31 दिसंबर तय की थी। ऐसे में अगर आपके पास अभी भी पुरानी चेक बुक है तो सीटीएस-2010 चेकबुक के लिए जल्द से जल्द आवेदन कर दें। 1 जनवरी 2019 से सभी बैंक पुराने चेक स्वीकार नहीं करेंगे। सीटीएस 2010 चेक बुक के लिए अपने बैंक से संपर्क कर सकते हैं. चेक के बाएं तरफ ‘सीटीएस 2010’ अंकित होता है।

नेट बैंकिंग में न आ जाए दिक्कत

अगर आप भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहक हैं और 31 दिसंबर से पहले अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करा लें। ऐसा नहीं करने से आप 1 जनवरी, 2019 से नेट बैंकिंग सेवा का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। बैंक ने ग्राहकों से नेट बैंकिंग जारी रखने के लिए नजदीकी शाखा में मोबाइल नंबर पंजीकरण करने के लिए कहा है। आप बैंक के शाखा में जाकर अपने मोबाइल नंबर को खाते के साथ आसानी से जोड़ सकते हैं।

सालाना जीएसटी रिटर्न भरने से राहत

जहां कई वित्तीय कामों को पूरा करने के लिए अंतिम तिथि 31 दिसंबर, 2018 है वहीं एक मोर्चे पर सरकार ने राहत दी है। वह है सालाना जीएसटी रिटर्न भरने की तारीख। सरकार ने सालाना जीएसटी रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 3 महीने बढ़ाकर 31 मार्च कर दी है। पहले यह 31 दिसंबर थी। इस फैसले से 1.15 करोड़ कारोबारियों को राहत मिलने की उम्मीद है।

Check Also

ग्‍लोबल मार्केट में आज हुई कच्‍चे तेल के दाम में गिरावट, पेट्रोल-डीजल का रेट यहाँ करें चेक

ग्‍लोबल मार्केट में कच्‍चे तेल की कीमतों में पिछले 24 घंटे के दौरान करीब तीन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *