Wednesday, December 7, 2022 at 8:08 AM

20 वर्ष पहले झेला था मिशेल ओबामा ने गर्भपात का दर्द

अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला मिशेल ओबामा की किताब ‘बीकमिंग’ 13 नवंबर को लॉन्‍च होगी। मिशेल ने अपनी इस किताब में हर उस बात का जिक्र किया है जो उन्‍होंने आठ वर्षों के दौरान व्‍हाइट हाउस में रहते हुए महसूस की। इसके अलावा उन्‍होंने अपनी जिंदगी से जुड़े ऐसे कई व्‍यक्तिगत पहलुओं को भी इसमें छुआ है जिसके बारे में अभी तक किसी को भी नहीं मालूम था। अपनी इस किताब में मिशेल ओबामा ने अपने गर्भपात के बारे में तो बात की ही है। उन्‍होंने इसमें यह भी बताया है कि उनकी दोनों बेटियां मालिया और साशा आईवीएफ के बाद जन्‍मीं थी।Image result for 20 वर्ष पहले झेला था मिशेल ओबामा ने गर्भपात का दर्द

20 वर्ष पहले गुजरीं दर्द से

मिशेल ने अपने मेमोयर एक हिस्‍से में बांझपन के साथ अपने संघर्ष के बारे में बात की है। मिशेल की इस किताब की एक एडवांस कॉपी अमेरिकी अखबार वॉशिेंगटन पोस्‍ट को दी गई है। 20 वर्ष पहले मिशेल ने गर्भपात का दर्द झेला था। 54 वर्ष की मिशेल ने लिखा है, ‘वह लगातार से गर्भधारण की कोशिशें कर रही थीं लेकिन कुछ सही नहीं हो पा रहा था।’ इसके बाद फिर एक दिन वह और उनके पति पूर्व राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने प्रेग्‍नेंसी टेस्‍ट कराया और वह पॉजिटव आया। इसके बाद दोनों खुश थे क्‍योंकि इस एक टेस्‍ट ने उनकी हर चिंताओं को भूला दिया था। लेकिन दो हफ्तों के बाद ही मिशेल को गर्भपात से गुजरना पड़ा।

बराक ओबामा व्यस्‍त थे चुनावों में

इस घटना ने उन्‍हें अंदर तक तोड़ दिया था और पति-पत्‍नी को एक अजीब सी निराशा ने घर कर लिया था। इसके बाद ओबामा दंपति ने आईवीएफ का विकल्‍प चुना। आईवीएफ प्रक्रिया पर हजारों डॉलर का खर्च आता है। कई कपल्‍स को तो एक बार से ज्‍यादा कोशिशें करनी पड़ जाती हैं। मिशेल ने बताया है कि वह इस पूरे दौर में अकेली थीं। उनके पति ओबामा चुनावों में व्‍यस्‍त थे। काफी हद तक उन्‍होंन अकेले ही सारी चीजों को झेला। मिशेल ने गुड मॉर्निंग अमेरिका के होस्‍ट रॉबिन रॉबर्ट्स को दिए इंटरव्‍यू में कहा, ‘मुझे ऐसा लगता था कि मैं कहीं खो गई हूं और अकेली हूं और मुझे हमेशा अहसास होता था कि मैं एक असफल महिला हूं।’

क्‍यों शेयर किया अनुभव

मिशेल ने बताया कि उन्‍हें नहीं मालूम था कि गर्भपात कितने सामान्‍य होते हैं क्‍योंकि वह उसके बारे में बात नहीं करती थीं। मिशेल ने कहा कि हम अपना दर्द लेकर बैठे रहते हैं और यह सोचते हैं कि कुछ भी हो हम टूट चुके हैं। मिशेल ने बताया कि करीब दो दशक पहले जब उन्‍होंने गर्भपात का दर्द झेला था तब इस बारे में ज्‍यादा बातें नहीं होती थीं। मिशेल की मानें तो आज वह इस बारे में बात कर रही हैं क्‍योंकि उन्‍हें उम्‍मीद है कि इस पर बात करने से कुछ बदल सकेगा। ओबामा की मानें तो बॉयोलॉजिकल क्‍लॉक एक सच होता है और यह सबसे खराब होता है। हर महिला को इससे गुजरना होता है।

Check Also

पेट्रोल और डीज़ल के दाम आज फिर बढ़े

  दिल्ली- पेट्रोल और डीज़ल के दाम आज फिर बढ़े,दिल्ली में डीजल 95 रुपए प्रति …