Wednesday, December 7, 2022 at 10:02 AM

रजनीकांत ने की मोदी सरकार के फैसले की आलोचना

इस वक्त सारे BJP विरोधी दल, एक होकर साल 2019 के लोकसभा चुनाव , में भाजपा को हराने की कोशिश में लगे हुए हैं, विरोधी दलों का पूरा प्रयास है कि वो किसी भी तरह से सत्तासीन भाजपा को सत्ता से बेदखल करे और इसी वजह से वो साम-दाम दंड-भेद से भाजपा के खिलाफ एक फौज तैयार करने में जुटे हुए हैं, इसी बीच तमिल सिनेमा के सुपर स्टार रजनीकांत ने चौंकाने वाला बयान देकर सबको हैरत में डाल दिया है, जिसके कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं।

Image result for रजनीकांत ने की मोदी सरकार के फैसले की आलोचना

रजनीकांत का चौंकाने वाला बयान
भाजपा सरकार की बड़ी गलती थी नोटबंदी: रजनीकांत

गौरतलब है कि सोमवार को चेन्नई एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से रूबरू हुए तमिल सिनेमा के भगवान माने जाने वाले रजनीकांत ने कहा कि एनडीए सरकार के नोटबंदी के फैसले को ठीक से लागू नहीं किया गया है, इस पर और ज्यादा चर्चा होनी चाहिए थी।

बीजेपी खतरनाक पार्टी

हालांकि नोटबंदी अच्छी थी या गलत, इस पर ‘थलाइवा’ ने खुलकर कुछ नहीं कहा लेकिन इसके बाद उन्होंने कहा कि बीजेपी के खिलाफ देश की सभी पार्टियों का एकजुट हो जाना भी सही नहीं है लेकिन अगर विपक्षियों को भाजपा एक खतरनाक पार्टी लगती है, तो ऐसा हो सकता है कि बीजेपी खतरनाक पार्टी हो।

लोकसभा चुनाव 2019
रजनीकांत के बयान के काफी सियासी अर्थ…

रजनीकांत के इस बयान के काफी सियासी अर्थ निकाले जा रहे हैं क्योंकि जब से उन्होंने राजनीति में आने का ऐलान किया है, तब से ही उन्हें अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी का समर्थक माना जा रहा है, वो कई मुद्दों पर खुलकर पीएम मोदी की तारीफ कर चुके हैं, यही नहीं वो आरएसएस के प्रति भी नरम रूख रखते हैं और हाल ही में उन्होंने संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात भी की थी।

रजनीकांत जाएंगे भाजपा में?
रजनीकांत को प्रो-मोदी भी कहा जाता है

यही नहीं रजनीकांत को प्रो-मोदी भी कहा जाता है, उन्होंने कभी भी पीएम मोदी के खिलाफ एक भी शब्द नहीं बोला है लेकिन सुपरस्टार हमेशा बीजेपी से खुले तौर पर राजनीतिक संबंध बनाने से कतराते दिखते हैं।

रातों-रात बदल जाते हैं सियासी फैसले

जब से रजनीकांत ने राजनीति में आने का ऐलान किया है तब से ही कयास लगाए जा रहे हैं कि हो सकता है कि लोकसभा चुनाव से पहले वो भगवा चोला पहन लें और अगर ऐसा होता है तो ये भाजपा के लिए दक्षिण भारत में सुखद खबर होगी क्योंकि रजनीकांत, यहां के लोगों के लिए क्या हैं, ये बात किसी से छुपी नहीं है लेकिन मोदी सरकार के फैसले की आलोचना करके उन्होंने लोगों को चौंकाया जरूर है, हालांकि राजनीतिक पुरोधाओं की मानें तो फैसले की आलोचना से किसी की मंशा को भांपा नहीं जा सकता है और ये सियासत है, जहां रातों-रात फैसले बदल जाते हैं।

तमिलनाडु की सीएम जयललिता की मौत के बाद रजनीकांत ने किया सियासत में आने का फैसला
12 दिसंबर को कर सकते हैं पार्टी का औपचारिक ऐलान

बताते चलें कि तमिलनाडु की सीएम जयललिता की मौत के बाद सुपरस्टार ने राजनीति में कदम रखने की मन बनाया था। सूत्रों के मुताबिक, अगले महीने 12 दिसंबर को, अपने जन्मदिन पर के मौके पर रजनीकांत औपचारिक रूप से अपनी पार्टी का ऐलान भी कर सकते हैं।

Check Also

पेट्रोल और डीज़ल के दाम आज फिर बढ़े

  दिल्ली- पेट्रोल और डीज़ल के दाम आज फिर बढ़े,दिल्ली में डीजल 95 रुपए प्रति …