Tuesday, November 29, 2022 at 4:18 AM

ये 3 कारण बताते हैं क्यों युवराज को खरीदकर फायदे में है मुंबई इंडियंस

डेस्क. IPL सीजन-12 के लिए खिलाड़ियों की नीलामी पूरी हो जाने के बाद सभी आठ टीमों का फुल स्क्वाड तय हो चुका है। हालांकि नीलामी में कई खिलाड़ियों को फ्रेंचाइजियों ने उस दाम में नहीं खरीदा, जिसके वो वाकई हकदार हैं। टीम इंडिया के धांसू ऑलराउंडर युवराज सिंह उन्हें में से एक हैं।

नीलामी में एक करोड़ रुपये के बेस प्राइज वाले युवराज सिंह को पहले राउंड में किसी ने नहीं खरीदा। हालांकि दूसरे राउंड में मुंबई इंडियंस ने उन्हें बेस प्राइज पर ही खरीद लिया। अब फैंस की निगाहें इस बात पर टिकी हैं कि सस्ते में बिकने वाले युवराज प्रतिद्वंद्वियों को कितने मंहगे पड़ेंगे। आइए जानते आखिर युवराज मुंबई के कितने काम आ सकते हैं।

मंबई इंडियंस में युवराज के शामिल होने से टीम पहले से ज्यादा मजबूत हो गई है। रोहित शर्मा जहां बल्लेबाजी के ऊपरी क्रम को मजबूत बनाते हैं, वहीं मिडिल ऑर्डर में युवराज जैसा धाकड़ बल्लेबाज विपक्षी गेंदबाजों की कमर तोड़कर रख सकता है।

बता दें कि रोहित शर्मा भारतीय टीम के लिए ओपनिंग करते हैं, लेकिन IPL में अपनी फ्रेंचाइजी के लिए उन्हें मध्यक्रम में आना पड़ता है। अब युवराज सिंह के होने से रोहित पारी का आगाज कर सकेंगे और मिडिल ऑर्डर बल्लेबाजी की जिम्मेदारी युवराज सिंह संभाल सकते हैं।

बल्लेबाजी के साथ-साथ युवराज गेंदबाजी में भी मुंबई की जीत में अहम भूमिक निभा सकते हैं। साल 2011 के विश्व कप में युवराज सिंह मैन ऑफ द् टूर्नामेंट थे। बल्लेबाज में उन्होंने 9 मैचों में 90.50 की बेहतरीन औसत के साथ 362 रन बनाए थे और 4 बार नाबाद रहे थे, जकि 9 मैचों में 15 विकेट भी चटकाए थे।

रणजी ट्रॉफी के हालिया सीजन में युवराज ने 2 लगातार विकेट चटकाए, जिसे देखकर लगता है कि युवराज सिंह ना केवल बल्लेबाजी बल्कि गेंदबाजी में भी टीम के लिए एक तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं। खासतौर पर मिडिल ओवर्स में युवराज विपक्षियों के स्कोरबोर्ड पर ब्रेक लगाने का भी काम करेंगे।

Check Also

श्रीलंकाई टीम के लिए आई बुरी खबर, चामिका करुणारत्ने पर लगा 1 साल का बैन

 एशिया कप की खिताबी सफलता को टी20 विश्व कप में दोहराने में नाकाम रही श्रीलंकाई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *