Tuesday, November 29, 2022 at 2:46 AM

पानी में बसा है चीन का ये गांव

हर देश में समय के साथ विकास होता जाता है। शहरों व गांवों की स्थिति सुधरती जाती है। हमारे देश में ही हम देख सकते हैं कि कितने सारे गांव हाईटेक और मूलभूत सुविधाओं से लेस हो चुके हैं।

Image result for पानी में बसा है चीन का ये गांव

लेकिन गौर से देखे तो देश के अंदरूनी इलाकों में आज भी कुछ जनजातियां एक अलग ही दुनिया बसाए हैं। ये जनजातियां आज भी किसी और सदी में जी रही हैं और ये अपनी जड़ों से दूर नहीं होना चाहती है।Related image

ऐसी स्थिति सर्फ भारत की नहीं बल्कि पड़ोसी देशों की भी है। आज हम चीन के एक ऐसे ही गांव की बात करने वाले हैं। कई सौ साल पहले से मौजूद यह गांव पानी पर बसा हुआ है और इतने साल बाद भी यहां के निवासी इसी तरह रहना पसंद करते हैं।

आइए जानते हैं पानी में बसा गांव के बारे में

पानी में बसा गांव

Related image

पानी वाला यह गांव चीन के फुजिआन प्रांत के निंग्डे शहर में बसा हुआ है। 700 ई. से यहां मौजूद इस गांव में 7000 के करीब मछुआरे रहते हैं। यहां रहने वाले लोगों की प्रजाति को ‘टंका’ नाम से जाना जाता है। लोगों के बीच यह गांव ‘जिप्सी ऑफ सी’ नाम से भी मशहूर है। अपने पूर्वजों के नक़्शे कदम पर चलते हुए इन्होंने भी अपने घर नावों पर बनाकर रखे हैं। नावों पर बने इन घरों को देखकर आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे।

टंकों का यह इलाका फुजिआन का सबसे लंबा समुद्र तट है। पानी पर तैरते ये घर लकड़ी से बनाए गए हैं। अब तो लोगों ने घरों के साथ मजबूर फार्म भी बना लिए हैं। इन्होंने बीच-बीच में लकड़ी के पुल जैसे भी बनाए हैं। ये मछुआरे आज भी सदियों से चले आ रहे रीति-रिवाजों का पालन कर रहे हैं। ये कई तरह की मछलियों का करते हैं और जमीन पर जाकर लोगों को बेचते हैं। इसी से इनकी जीविका चलती है।

ऐसे हुई शुरूआत

दरअसल 700 ई. के दौरान यहां तांग राजवंश की सत्ता थी। उस दौरान टंका प्रजाति के लोगों को बहुत सताया जाता था और जमीन पर युद्ध भी होते रहते थे। इन सबसे बचने के लिए ये लोग पानी में रहने चले गए थे। आज तो स्थिति बदल गई है। फिर भी ये यही रहना पसंद करते हैं। वे जमीन पर बहुत कम ही जाते हैं।

उस दौर में इन लोगों को किनारों पर जाने की मनाही थी। ये तट पर रहने वाले लोगों से रिश्ता भी नहीं जोड़ सकते थे। शादी से लेकर अंतिम संस्कार तक जैसी क्रिया नाव में ही होती थी। लेकिन चीन बनने के बाद स्थानीय सरकार के प्रोत्साहन से ये लोग तटों पर आने लगे हैं। लेकिन कुछ लोग अब भी पानी के बीच अपनी अलग ही दुनिया में रहना चाहते हैं।

पानी में बसा गांव – पानी में तैरता यह गांव अपने आप में अनोखा है। इस तरह समुद्र में रहना रोमांचकारी अनुभव होता होगा। कभी मौका मिले तो यहां एक बार जरूर जाइएगा। तब तक अगर यह स्टोरी पसंद आई हो तो इसे शेयर कीजिएगा।

Check Also

पेट्रोल और डीज़ल के दाम आज फिर बढ़े

  दिल्ली- पेट्रोल और डीज़ल के दाम आज फिर बढ़े,दिल्ली में डीजल 95 रुपए प्रति …