Monday, November 28, 2022 at 4:48 PM

अब कभी फुल नहीं होगा आपका मेलबॉक्स, इस App से करें अनलिमिटेड स्टोरेज

आज के समय में ईमेल का इस्तेमाल करना आम बात है. हम रोज ऑफिस में ईमेल भेजते और रिसीव करते हैं लेकिन मेलबॉक्स फुल होने के बाद हमें नए मेल रिसीव करने के लिए पुराने डिलीट करने पड़ते थे. अब आप भी सोच रहे होंगे कि इसमें नई बात क्या है. नई बात ये है कि दुनिया की पहली भाषाई ईमेल सेवा प्रदाता कंपनी डेटामेल ने अपने एप्लिकेशन पर अनलिमिटेड स्टोरेज की घोषणा की है.Image result for अब कभी फुल नहीं होगा आपका मेलबॉक्स, इस App से करें अनलिमिटेड स्टोरेज

कंपनी का दावा है कि यह दुनिया में इकलौता एप है जो अनलिमिटेड स्पेस देता है. डेटामेल ईमेल सेवा को डेटा एक्सजेन टेक्नोलॉजीज ने विकसित किया है. डेटा एक्सजेन टेक्नोलॉजीज के संस्थापक और सीईओ डॉ. अजय डेटा ने एक बयान में कहा, “ईमेल्स की व्यक्तिगत या कारोबारी संचार में महत्वपूर्ण भूमिका है. इसमें महत्वपूर्ण डेटा होता है, जरूरत लंबी अवधि तक और निरंतरता के साथ पड़ती है.

उन्होंने कहा, ”कभी-कभी लिमिटेड स्टोरेज होने की वजह से मेलबॉक्स फुल हो जाता है और स्पेस की कमी की वजह से कामकाज प्रभावित होता है. ऐसी परिस्थिति में यूजर्स को कुछ ईमेल्स को डिलीट करना होता है या ईमेल्स और डेटा को खोने से बचाने के लिए अलग-अलग बैकअप्स बनाने होते हैं.” डेटामेल ने इस समस्या को समझा और अपने यूजर्स को अपने एप्लिकेशन के माध्यम से अनलिमिटेड स्टोरेज उपलब्ध कराया. डेटामेल में अनलिमिटेड स्टोरेज सुविधा यूजर्स को अपने स्तर पर और अपनी जरूरत के मुताबिक स्पेस कोटा बढ़ाने की अनुमति देता है.

अनलिमिटेड स्पेस पाने के लिए एप के भीतर ही टॉप कॉर्नर पर गिफ्ट बॉक्स दिया है. यूजर्स को उसे क्लिक करना है और उपहार में दी गई किसी खास एक्शन को फॉलो करना होता है. जब वे एक्शन को पूरा करते हैं तो एक एमबी स्पेस उनके ईमेल अकाउंट में जुड़ जाती है. यूजर्स जितनी बार चाहें, उतनी बार यह कर सकते हैं. यह उन्हें यूजर्स को आने वाली दिक्कतों को दूर करने में मदद करते हैं, जैसे कि कम स्टोरेज स्पेस होने से ईमेल बाउंस होना शामिल है. वे ईमेल्स के जरिए आसानी से संचार कर सकते हैं.

बयान में कहा गया कि छात्रों और प्रोफेशनल्स के लिए यह एक बहुत अच्छा ईमेल अकाउंट बन जाता है, क्योंकि उनके ईमेल खाते पर पूरी तरह से उनका नियंत्रण होगा और जब भी वे चाहेंगे तो डेटामेल एप से अपने खाते में स्टोरेज बढ़ा सकेंगे. यह न केवल स्टोरेज संसाधनों को खराब होने से रोकता है, बल्कि कंपनी और यूजर्स के लिए संसाधनों के लिए इस्तेमाल को बेहतर बनाता है.

कंपनी का कहना है कि भारत में निर्मित, ‘डेटामेल’, दुनिया की पहली भाषाई ईमेल सेवा है, जो आईडीएन की कई भारतीय और विदेशी भाषाओं में समर्थन करती है. इसे किसी भी एंड्रॉयड या आईओएस सिस्टम से मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है. वर्तमान में भारत में हिंदी, गुजराती, उर्दू, पंजाबी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी सहित पंद्रह क्षेत्रीय भाषाओं में भाषाई ईमेल सेवा पेश की जा रही है.

Check Also

Apple Watch Series 8 के फीचर्स और स्पेसिफिकेशंस पर डाले एक नजर, देखिए यहाँ

Apple आज नए iPhone 14-सीरीज के साथ स्मार्टवॉच की अपनी नई रेंज लॉन्च करने के …