Wednesday, December 7, 2022 at 8:12 AM

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गिरे ऑयल के दाम

अंतरराष्ट्रीय मार्केट में ऑयल की कीमतों में पिछले 6 हफ्तों में बहुत ज्यादा गिरावट देखने को मिली है. ऑयल की मूल्य 86.29 डॉलर प्रति बैरल से घटकर अब 63.3 डॉलर प्रति बैरल हो गई है. हिंदुस्तान में भी पेट्रोल  डीजल के दामों में कुछ गिरावट आई है. वहीं रुपया भी डॉलर की तुलना में मजबूत हुआ है. 3 अक्तूबर से 21 नवंबर के बीच कच्चे ऑयल की कीमतें 36.31 फीसदी से 63.3 रुपये प्रति बैरल तक घटे हैं. दिल्ली में पेट्रोल  डीजल की कीमतें क्रमश: 8.9  5.28 फीसदी घटी हैं.
Image result for अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गिरे ऑयल के दाम

3 अक्तूबर को पेट्रोल की मूल्य 83.85 रुपये प्रति लीटर थी. वहीं 21 नवंबर को इसकी मूल्य 76.30 रुपये प्रति लीटर रही. डीजल की बात करें तो 3 अक्तूबर को इसकी मूल्य 75.25 तो 21 नंवबर को 71.25 रुपये प्रति लीटर रही. इसी अवधि के दौरान डॉलर के मुकाबले रुपया 2.64 फीसदी मजबूत हुआ. एक डॉलर की मूल्य 21 नवंबर को 71.30 रुपये थी. कच्चे ऑयल की घटती कीमतों के पीछे बहुत ज्यादा सारे कारण रहे. जिसमें से मुख्य कारण यह हैं-

– सऊदी अरब  दूसरे ऑयल निर्माता राष्ट्र जो 2017 तक ज्यादा मात्रा में ऑयल का उत्पादन करते थे उन्होंने अब पर्याप्त मात्रा में ऑयल का उत्पादन करना प्रारम्भ कर दिया ताकि उपभोक्ताओं की परेशानियां कम हो सके.

– अच्छा इसी समय अमेरिका में ऑयल का उत्पादन अपेक्षा से ज्यादा बढ़ने लगा. युद्धरत होने के बावजूद लिबिया में ऑयल का उत्पादन बढ़ा. वहीं अशांत राष्ट्र वेनेजुएला में भी ऑयल का उत्पादन उम्मीद से बेहतर हुआ. दुनियाभर में एक बार फिर से ऑयल का भंडारण होना प्रारम्भ हुआ.

– डोनाल्ड ट्रंप द्वारा ईरान पर लगाए प्रतिबंधों का हिंदुस्तान के ऑयल उत्पादन पर कोई खास असर नहीं पड़ा. ऐसा इसलिए क्योंकि ट्रंप ने ईरान के सबसे बड़े ग्राहक देशों- जापान, चाइना हिंदुस्तान को अस्थायी रूप से ऑयल खरीदने की अनुमति दे दी.

Check Also

पेट्रोल-डीजल के दाम में आज दिखा बड़ा बदलाव, फटाफट चेक करें रेट

ग्‍लोबल मार्केट में कच्‍चे तेल की कीमतों में लगातार दूसरे दिन उछाल दिखा,  असर आज …